- पातालेश्वर में हुई फायरिंग में 25 हजार के ईनामी को भी लगी गोली

- गुप्त स्थान पर करा रहा इलाज, पुलिस की टीमें कर रहीं तलाश

-गोलीबारी में मारा गया था कुख्यात बदमाश रईस बनारसी और राकेश अग्रहरि

दशाश्वमेध थानाक्षेत्र के पातालेश्वर में शुक्रवार की शाम हुई फायरिंग में 50 हजार के इनामी बदमाश रईस बनारसी और राकेश अग्रहरि की मौत हो गयी थी. इसी घटना में एक और बदमाश घायल हुआ था. राकेश अग्रहरि पर हमला करने आए रईस के साथ कवर के रूप में आए बदमाश के कंधे पर गोली लगी है. पुलिस सूत्रों की मानें तो वह कोई और नहीं बल्कि लक्सा क्षेत्र का 25 हजार का इनामी दीपक वर्मा है. दीपक शहर में ही कहीं इलाज करा रहा है. उसकी तलाश के लिए पुलिस टीमें हर नर्सिग होम, अस्पताल और हेल्थ सेंटर की तलाशी कर रही हैं.

शुक्रवार की देर रात पोस्टमार्टम के बाद शवों को परिवार के हवाले कर दिया गया.

साथ पहुंचा था 25 हजार का इनामी

शुक्रवार की शाम 50 हजार के इनामी रईस सिद्दीकी उर्फ रईस बनारसी और राकेश अग्रहरि का आमना-सामना हुआ. दोनों के बीच पिछले कुछ दिनों से तकरार चल रही थी और दोनों ही एक-दूसरे की जान लेने की तैयारी में थे. हमले के दिन रईस ने कवर के लिए अपने साथियों को भी ले लिया था. 25 हजार का इनामी दीपक वर्मा उसके साथ था. .32 बोर की पिस्टल से रईस ने राकेश अग्रहरि को गोली मारी तो गिरते-गिरते राकेश ने भी 9 एमएम की पिस्टल से जवाबी फायरिंग की. गोली रईस के गले में लगी. इसी फायरिंग में 25 हजारी दीपक वर्मा के कंधे पर भी गोली लगी है. इसके बाद वह घटनास्थल से भाग निकला.

पुलिस खंगाल रही अस्पताल

गोली लगने से घायल दीपक वर्मा के बारे में अब तक पुलिस को कोई सुराग नहीं लग सका है. उसकी तलाश के लिए शहर भर की पुलिस अपने-अपने क्षेत्रों में अस्पताल, हेल्थ सेंटर और नर्सिग होम खंगाल रही है. इस आशंका से भी इनकार नहीं है कि इनामी अस्पताल न जाकर किसी गोपनीय स्थान पर अपना इलाज करा रहा हो. पुलिस और क्राइम ब्रांच की टीमें इसकी सुरागरसी की कोशिश में लगी हैं.

रईस को छोड़ने वाले की तलाश

गोलीबारी में गले में बाई तरफ गोली लगने के बाद गंभीर रूप से घायल रईस बनारसी को नई सड़क छोड़कर भागने वाला बाइक सवार भी पुलिस के लिए पहेली बना हुआ है. प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है कि उसने सफेद शर्ट पहन रखी थी. घटनास्थल से एक सीसीटीवी फुटेज भी बरामद हुआ है. इसमें एक संदिग्ध युवक हेलमेट लेकर जाता दिखा है जिसने सफेद शर्ट पहन रखी है. पुलिस की टीमें उसके बारे में भी तस्दीक करने में लगी हैं.

रईस की पत्‍‌नी भी थी शहर में

सूत्रों की मानें तो सपा नेता प्रभु साहनी की हत्या का बदला लेने आए रईस बनारसी की पत्‍‌नी भी शुक्रवार को शहर में थी. दोपहर के वक्त रईस ने उसे एक व्यापारी से वसूले रुपये दिए थे. हालांकि उसकी मौत की खबर फैलने के बाद पत्‍‌नी का कहीं पता नहीं चला. क्राइम ब्रांच की सर्विलांस सेल इस बात की छानबीन में भी लगी है कि राकेश के मोबाइल पर आखिरी कॉल किसका था. इसी छानबीन में एक अन्य महिला की तलाश भी जा रही है जिससे उसकी कई बार बात हुई थी.