-थाने में शिकायत दर्ज कराने पहुंचे युवकों पर दो दर्जन बदमाशों ने किया जानलेवा हमला

-बदमाशों के भागने तक थाने से बाहर नहीं निकल सकी पुलिस, इलाके में दहशत

मनबढ़ बदमाशों ने पुलिस को चुनौती देते हुए सिगरा थाने के सामने ताबड़तोड़ बमबाजी की और कई राउंड गोली चलायी. शनिवार की शाम हुई वारदात में बदमाशों का निशाना थाने में मारपीट की शिकायत दर्ज कराने पहुंचे दो युवक थे. बमबाजी की घटना से सिगरा इलाका थर्रा उठा.धमाके की गूंज सुनते ही आसपास के लोग दुकानों में दुबक गए. आरोपियों की टोह में सिगरा पुलिस दबिश दे रही है. माधोपुर के विश्वजीत यादव, हर्ष तोड़ी सहित एक दर्जन अन्य युवकों के खिलाफ पीडि़त विनय सोनकर व परेडकोठी निवासी अविनाश प्रताप सिंह ने मुकदमा दर्ज कराया है.

पटके कई बम

प्रताप होटल परिवार के अविनाश प्रताप सिंह के यहां बड़ी गैबी महमूरगंज निवासी विनय सोनकर रहता है. इसका विवाद सिगरा थाना इलाके के मनबढ़ विश्वजीत और हर्ष तोड़ी से काफी दिनों से चला आ है. शुक्रवार को विनय घर से परेडकोठी की ओर आ रहा था. तभी सोनिया पर पहले से ही साथियों के साथ मौजूद विश्वजीत, हर्ष ने उसे घेरकर हाकी डंडे से जमकर पिटाई की. आसपास के लोग जुटे तो धमकी देते हुए भाग निकले. अविनाश के साथ विनय घटना की शिकायत करने सिगरा थाना पहुंचे. इसकी जानकारी मनबढ़ विश्वजीत और हर्ष को हो गयी. 20 बाइक से लगभग दो दर्जन साथियों के साथ सिगरा थाने के पास पहुंच गए. विनय व अविनाश जैसे ही बाहर निकालकर थोड़ी दूर पहुंचे थे कि बदमाशों ने उन्हें लक्ष्य करके एक के बाद एक कई बम पटके. कई राउंड गोलियां भी चलायीं. विनय और अविनाश ने पास में मौजूद बार में घुसकर अपनी जान बचायी. युवकों की बाइक को बदमाशों क्षतिग्रस्त कर दिया.

थाने के सामने से भागे बदमाश

जिस वक्त बदमाश बमबाजी और गोलीबारी कर रहे थे उस वक्त सिगरा इंस्पेक्टर थाने में ही मौजूद थे. बावजूद इसके बदमाश पीडि़त युवकों को धमकी देते हुए बाइक पर सवार होकर हॉकी, राड और असलहा लहराते हुए थाने के सामने से भाग निकले. बदमाशों के जाने के बाद पुलिस थाने के बाहर निकली और परम्परागत तरीके वारदात की तस्दीक में जुट गयी. सूचना पाकर सीओ चेतगंज अंकिता सिंह भी मौके पर पहुंच गई. पीडि़तों से बातचीत के बाद आरोपियों को दबोचने के लिए सिगरा इंस्पेक्टर को निर्देशित किया.