-लंका पुलिस ने आरोपी को किया अरेस्ट, हाईवे स्थित एक खंडहरनुमा मकान में खून से लथपथ मिला था सौरभ

नवनीता कुंवर पब्लिक स्कूल सुसुवाही में कक्षा नौंवी के छात्र सौरभ की सिर कूंचकर हत्या उसके जिगरी दोस्त युवराज ने ही की थी. लंका पुलिस ने घायल सौरभ को बीएचयू ट्रामा सेंटर में एडमिट कराया था जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई थी. घटना की तफ्तीश में जुटी लंका पुलिस ने सौरभ के साथ पढ़ने वाले दोस्त युवराज को अरेस्ट किया है. बुधवार को एसपी सिटी दिनेश सिंह ने आरोपी छात्र को मीडिया के सामने पेश किया. आरोपी छात्र ने कबूल किया कि सौरभ आए दिन उसे मारता-पीटता था. एक पार्टी के दौरान भी दु‌र्व्यवहार करने के बाद पिटाई की थी. स्कूल से छुट्टी होने के बाद घर लौटने के दौरान हाईवे स्थित एक ढाबा से कुछ खाने पीने का सामान लेकर पीछे खंडहरनुमा मकान में गए, यहां सौरभ फिर मारने पीटने लगा तो पास में रखे बोतल से उसके सिर पर प्रहार कर दिया. खून से लथपथ सौरभ को छोड़कर वहां से भाग निकला था. माधोपुर रोहनिया निवासी सौरभ के पिता संजय कुमार सिंह ने सहपाठी समेत स्कूल के प्रिंसिपल सहित दो अन्य के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया था. गिरफ्तार टीम में थाना प्रभारी निरीक्षक भारत भूषण तिवारी, राजेश कुमार सिंह, नरेन्द्र मोहन सिंह, राघवेन्द्र सिंह, कुलदीप मौर्या आदि रहे.