modassir.khan@inext.co.in

PATNA : राजधानी की सड़कों पर अगर आप चल रहे हैं तो जरा सावधान हो जाइए। मुख्य सड़कों से जुड़ी पॉश कॉलोनियों की गलियां सुरक्षित नहीं हैं। यहां बदमाश घात लगाकर बैठे रहते हैं। इनके पास महंगी बाइक है, हाथ में पिस्टल और चाकू है। हाल ही में ऐसी कई वारदातें हो चुकी हैं। रोड पर घात लगाकर बैठे गिरोह के टारगेट पर देर रात ऑफिस से लौटने वाले निजी कंपनियों के वे कर्मचारी हैं जिनके पास बाइक, पर्स, मोबाइल और लैपटॉप होता है। वारदात को अंजाम देने के बाद गली के रास्ते चंपत हो जाते हैं। जब तक मामला थाने पहुंचता है तब तक खेल खत्म हो जाता है। ये कहानी किसी एक जगह की नहीं है बल्कि राजधानी में हर जगह की है। स्थिति ये है कि पिछले चार महीने में लूट और डकैती की 58 घटनाएं हो चुकी हैं। इससे लोगों में खौफ है।

अधिकांश घटनाएं लूट की

पटना में इस साल जनवरी से लेकर अप्रैल तक का आंकड़ा देख जाए तो सड़क पर लूट और डकैती के कुल 58 मामले दर्ज हुए हैं। इसमें सड़क पर डकैती की 11 घटनाएं हुई हैं। वहीं, लूट की 47 घटनाएं हो चुकी है। ये संख्या लगातार बढ़ रही है। इस कारण आम लोगों में दहशत है।

सेना के जवान से 5 लाख की लूट

दानापुर थाना क्षेत्र के आसोपुर निवासी सेना का जवान मुन्ना कुमार सिंह सगुना मोड़ स्थित एसबीआई बैंक की शाखा से 7 अप्रैल को पांच लाख रुपए निकालकर पत्‍‌नी के साथ स्कूटी से घर जा रहे थे। घर के बाहर मुन्ना जैसे ही स्कूटी स्टैंड पर लगा ही रहे थे कि दो बाइक सवार बदमाश पहुंचे और पैसे से भरा छीन कर भाग गए।

दीघा थाना क्षेत्र में रात में लूट

दीघा थाना क्षेत्र में 18 अप्रैल की रात प्रेम कुमार पिता दिलीप कुमार के साथ लूट की घटना हुई थी। वे यहां अपने रिश्तेदार से मिलने आए थे। इसके बाद घर जा रहे थे। इस दौरान जैसे ही दीघा थाने से करीब 200 मीटर दूर आगे नहर पर गए, तेज रफ्तार में एक बाइक पर सवार चार लोग आए और ओवरटेक कर गाड़ी रोक ली और हथियार के बल पर लूट लिया।

दिनदहाड़े 10 लाख की लूट

कदमकुआं में 11 फरवरी को दिनदहाड़े बाइक सवार बदमाशों ने पिस्टल के बल पर कदमकुआं थाना क्षेत्र के आर्य कुमार रोड पर प्रिंटिंग प्रेस कर्मचारी से 10 लाख रुपए लूट फरार हो गए। घटना के 14 दिन गुजर चुके हैं। ये घटना दिनदहाड़े हुई थी। इस घटना के बाद लोग सकते में आ गए थे। इसके साथ दिन में लोग चलने में डरने में लगे थे।

ले ली थी व्यापारी की जान

23 फरवरी की रात आठ बजे गांधी मैदान थाना क्षेत्र के फ्रेजर रोड में बाइक सवार तीन बदमाशों ने लूटपाट के क्रम में दुकानदार पुरुषोत्तम कुमार की गोली मारकर हत्या कर दी। घटनास्थल के पास ही क्विक मोबाइल जवान गुजरा था। फ्रेजर रोड सबसे व्यस्त इलाका है। हालांकि पुलिस ने बाद में इस मामले में आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया।

बैग के चक्कर में हमला

अगर आप देर रात बाइक से जा रहे हैं और आपकी पीठ पर बैग है तो संभल कर चलें। कोशिश करें कि मुख्य सड़क से ही यात्रा करें। गली में जाते ही आपके साथ वारदात हो सकती है। अपराधी यह मानते हैं कि बैग में लैपटॉप होगा। अगर हाथ लग गया तो 25 से 40 हजार रुपए का काम हो जाता है। इसलिए अपराधी जानलेवा हमला करने से भी नहीं चूकते हैं।

इन इलाकों में ज्यादा वारदात

बोरिंग रोड

पानी टंकी

सगुना मोड़

पंचमुखी मंदिर

राजा पुल

गर्दनीबाग

कंकड़बाग शालीमार मोड़

कॉलोनी मोड़

एसकेपुरी

दीघा-आशियाना मोड़

राजवंशीनगर

दानापुर रोड

रूपसपुर

एनएच-30

चंडासी पथ

दानापुर रोड

राजीव नगर

पाटलिपुत्र