पुलिस ने बाग में पकड़ी अवैध हथियारों की फैक्ट्री

वेस्ट यूपी में की जा रही थी हथियारों की सप्लाई

meerut@inext.co.in
Meerut: पुलिस ने सरधना के जंगल में छापेमारी करके आधुनिक असलहा बनाने वाली फैक्ट्री का भंडाफोड़ किया है. पुलिस ने वहां से तैयार व अधबने हथियारों का जखीरा बरामद करते हुए छह हथियार तस्करों को गिरफ्तार कर लिया. यह जानकारी एसएसपी राजेश कुमार पांडेय ने पुलिसलाइन में आयोजित प्रेसवार्ता में दी.


लोकसभा चुनाव के लिए

एसएसपी राजेश कुमार पांडेय को सूचना मिली कि सरधना थाना क्षेत्र के भमौरी गांव के जंगल में एक आम का बाग है. वहां पर कुछ हथियारों के तस्कर आधुनिक हथियारों की फैक्ट्री चला रहे हैं. वह वहीं से हथियारों की खरीद-फरोख्त भी करते हैं. सूचना मिलते ही एसएसपी ने एसपी देहात राजेश कुमार, सीओ सरधना व दो थानों की फोर्स को गांव भमौरी के बाग में चल रही फैक्ट्री में दबिश डालने के आदेश दिए.


दबिश पड़ते ही मची भगदड़

सरधना पुलिस ने आम के बाग में चल रही हथियारों की फैक्ट्री को चारों तरफ से घेर लिया. पुलिस को देखते ही हथियार तस्करों में भगदड़ मच गई. पुलिस ने मौके से छह हथियार तस्करों समेत हथियार बनाने के औजार व हथियारों का जखीरा कब्जे में ले लिया.


यह गिरफ्तार हुए

1. फरमान पुत्र इरफान निवासी ग्राम रूहासा थाना दौराला

2. दिनेश ठाकुर पुत्र सूरजमल निवासी ग्राम भामौरी थाना सरधना

3. इनाम पुत्र सलीमुद्दीन सैफी पुत्र मो. इस्लाम निवासी मो. इस्लामनगर थाना खतौली

4. अमित गिरी पुत्र रमेशचंद गिरी निवासी ग्राम भामौरी थाना सरधना

5. अहसान पुत्र शौकीन सैफी निवासी ग्राम जोला थाना बुढ़ाना

6. नसीम पुत्र रफीक निवासी जोला थाना बुढ़ाना


वेस्ट यूपी में तस्करी

एसएसपी के मुताबिक पकड़े गए हथियार तस्कर यहां बनाए गए हथियार वेस्ट यूपी में सप्लाई करते थे. सबसे ज्यादा हथियारों की मांग मेरठ व मुजफ्फरनगर के लिए होती थी. इसके साथ शामली, सहारनपुर, कैराना में भी हथियारों की बराबर सप्लाई होती थी.


ऑन डिमांड हथियार

एसएसपी के मुताबिक हथियार तस्कर नफीस और उसके साथी ऑन डिमांड हथियार बनाते हैं. जब जिसको जितने हथियार की जरूरत होती थी, तैयार करके दे दिए जाते थे. हथियार तस्करों के पास थोक की डिमांड आती थी, जिसके तहत वह कई बार 50 से 100 हथियार तक बनाकर सप्लाई कर चुके हैं. पुलिस ने बताया कि गिरफ्तार दिनेश ठाकुर व अमित गिरी तैयार हथियारों की सप्लाई करते थे. उनके खिलाफ पहले भी हथियार सप्लाई करने के मुकदमे चल रहे हैं.


हथियार हुए बरामद

25 - तमंचे 315 बोर

25 - खोका कारतूस

12 - तमंचे अधबने 315 बोर

20 - तमंचे बड़ी नाल के

फाइल फोटो