यमुनापार में सक्रिय था गिरोह, पिस्टल और तमंचा व लूट की बाइक सहित 16 बम बरामद

allahabad@inext.co.in

ALLAHABAD: यमुनापार में लूट, छिनैती जैसी वारदात को अंजाम देने वाले हिस्ट्रीशीटर व उसके तीन अन्य साथियों को पुलिस ने दबोच लिया है. जबकि एक बदमाश फरार होने में कामयाब रहा. बदमाशों के पास से पुलिस ने पिस्टल, तमंचा, लूट की बाइक और 16 बम बरामद किए हैं.

लूट की नीयत से थे खड़े

पुलिस लाइन के सभागार में एसपी यमुनापार एके राय ने मीडिया को बताया कि गैंग के मास्टर माइंड का नाम सुनील उर्फ नगीना है. वह करछना के हिंदूपुर गांव का निवासी है. उसके खिलाफ क्षेत्र में 10 से अधिक आपराधिक मुकदमें दर्ज हैं. वह तीन साल तक जेल में सजा जा चुका है. बताया कि नैनी से एक पिकअप वैन रोजाना कोल्ड ड्रिंक व बिस्किट लादकर सुनील के घर के सामने से गुजरती थी. वैन को देख उसने लूट की योजना बना डाली.

अलग-अलग क्षेत्रों के हैं लुटेरे

लूट की घटना को अंजाम देने के लिए उसने कौंधियारा थाने के हिस्ट्रीशीटर राकेश पासी, जार्जटाउन के नीरज उर्फ पिंकू सिंह, खीरी के ब्रम्हदेव द्विवेदी और सरायइनायत के अखिलेश सिंह को वारदात में शामिल किया. लुटेरों का अंदाजा था कि डिस्ट्रीब्यूटर के पास दो से तीन लाख रुपये रहते होंगे. इसी सोच के तहत वे बीती रात लूट केइरादे से कौंधियारा बार्डर पर खड़े थे. मुखबिर की सूचना पर इंस्पेक्टर करछना सच्च्चदानंद त्रिपाठी मय फोर्स मौके पर पहुंचकर घेराबंदी कर लिए. बदमाश पुलिस को देखते ही भागने लगे. बदमाशों को पुलिस ने उन्हें दौड़ाया तो वे बमबाजी शुरू कर दिए. किसी तरह पुलिस टीम ने चार अभियुक्तों को गिरफ्तार कर लिया. पकड़े गए बदमाशों के खिलाफ जार्ज टाउन, सिविल लाइन, सरायइनायत, करछना, कौंधियारा समेत कई थानों में हत्या के प्रयास, लूट, गैंगेस्टर के मुकदमे पंजीकृत हैं. फरार आरोपी की तलाश की जा रही है. जल्द ही उसे भी गिरफ्तार कर लिया जाएगा.