- नृत्य कला व अध्यात्म के अप्रतिम आयोजन घाट संध्या के 200 दिन हुए पूरे

- गुरु नेहा वर्मा व शिष्य अलंकृता के भरतनाट्यम प्रस्तुति ने मोहा मन

varanasi@inext.co.in

VARANASI

जिला सांस्कृतिक समिति की ओर से नृत्य, कला एवं अध्यात्म का अप्रतिम आयोजन 'घाट-संध्या' के ख्00वीं शाम का आगाज गुरु शिष्य परम्परा को पोषित करते प्रस्तुति से हुआ. रीवा घाट पर हुए आयोजन में गुरु नेहा वर्मा व शिष्य अलंकृता पाण्डेय ने भरतनाट्यम की मनोहारी प्रस्तुति देकर श्रोताओं को मंत्रमुग्ध कर दिया. उन्होंने पुष्पांजलि, तत्पश्चात अलारिपु, आई गिरि नंदनी तथा समापन शब्दम् से किया. इसके पूर्व कार्यक्रम का उद्घाटन बतौर चीफ गेस्ट यू.एस. अग्रवाल, पद्मश्री शोमा घोष, यश भारती श्री विष्णु यादव एवं डॉ रत्‍‌नेश वर्मा ने संयुक्त रूप से मां गंगा में दीपदान करके किया. इस अवसर पर वीडीए के वाइस प्रेसिडेंट पुलकित खरे के लद्दाख/स्पिति विषयक फोटो प्रदर्शनी का भी उद्घाटन हुआ. प्रदर्शित छायाचित्रों में प्रकृति के विभिन्न दृश्यों को दर्शाया गया. आशा अग्रवाल एवं सोमा घोष ने कलाकार को प्रमाण पत्र प्रदान किया. कार्यक्त्रम में एसडीएम इशा दुहन, मंजुला चतुर्वेदी, अंकिता खत्री, मनीष खत्री, श्याम केसरी, मिथिलेश सिंह, अतुल सिंह, कृष्णमोहन पाण्डेय, देवेन्द्र मिश्र, जगदीश पिल्लई,राहुल यादव, प्रशांत सिंह एवं क्षेत्रीयजन भारी संख्या में उपस्थित रहे. संचालन संध्या सिंह एवं सीमा केशरी ने व धन्यवाद पुलकित खरे ने दिया.