कानपुर।  बंगाल की खाड़ी के दक्षिण उत्तर में पिछले दो दिनों से लो प्रेशर की स्थितियां बनी हैं। भारतीय माैसम वैज्ञानिकों की मानें तो इसकी वजह से उठ रहे चक्रवाती तूफान 'पेथाई' से स्थितियां गंभीर भी हो सकती हैं। पेथाई दक्षिणपश्चिमी से उत्तरपश्चिम की ओर बढ़ रहा है। पेथाई की वजह से आंध्र प्रदेश के वोंगाल एवं काकीनाडा मेें तेज हवाओं के साथ भारी बारिश हो रही है। आज दोपहर बाद पेथाई मछलीपत्तनम और काकीनाडा से उत्तर पश्चिम की ओर बढ़ते हुए आंध्र प्रदेश का तट पार कर सकता है।

हवाओं की गति 100 किमी प्रति घंटे तक
पूर्वानुमानों के मुताबिक आंध्र तट पार के बाद पेथाई तूफान कमजोर पड़ सकता है। आज तटीय आंध्र प्रदेश कुछ इलाकों में भारी बारिश की आशंका है। उत्तर तमिलनाडु, पुदुचेरी और ओडिशा में भी भारी बारिश हो सकती है। वहीं छत्तीसगढ़, झारखंड, गंगाटिक पश्चिम बंगाल, अंडमान और निकोबार द्वीप के कई इलाके बारिश से सराबोर रह सकते हैं। वहीं हवाओं पर नजर डालें तो केंद्रीय तटीय आंध् प्रदेश में 80-90 किमी प्रति घंटे की गति में चलने वाली हवाएं 100 किमी प्रति घंटे तक भी पहुंच सकती हैं।

प्रशासन को भी अलर्ट रहने को कहा गया
इसके अलावा पुदुचेरी में भी हवाएं 60-70 किमी प्रति घंटे की गति से चलने वाली हवाएं 80 किमी प्रति घंटा तक पहुंच सकती हैं। वहीं शेष तटीय आंध्र प्रदेश में 80-100 किमी प्रति घंटे से चलने वाली हवाओं के बंगाल की खाड़ी के केंद्र में 110 किमी प्रति घंटे की गति तक पहुंचने की संभावना है। ऐसे में समुद्री इलाकाें में बारिश और हवाओं से बिगड़ी स्थितियां देखते हुए मछुआरों को सलाह दी जाती है कि वे इन इलाकों में न जाए। इसके अलावा स्थानीय प्रशासन को भी अलर्ट रहने को कहा गया है।  

ज्यादा ठंड पंजाब और राजस्थान में होगी

वहीं उत्तर भारत में आज सबसे ज्यादा ठंड पंजाब और राजस्थान में होगी। इन राज्यों के कुछ हिस्सों में तो शीत लहर चलने के आसार भी दिख रहे हैं।  इसके साथ ही पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़ ,दिल्ली व उत्तर प्रदेश में आज भी सुबह के समय कोहरा छाया रहेगा। अगले 2 दिनों में उत्तर पश्चिम भारत के अधिकांश हिस्सों में न्यूनतम तापमान करी 2-3 डिग्री सेल्सियस गिरने की संभावना है। वहीं असम, मेघालय, नागालैंड, मणिपुर, मिजोरम और त्रिपुरा के भी अधिकांश इलाकों में पूरे दिन हल्की धुंध सी छाई रहेगी।

National News inextlive from India News Desk