PRAYAGRAJ: सेंट्रल जेल नैनी के बैरक नंबर 18 से शनिवार को गायब बंदी भगंते उर्फ छग्गन की तलाश में रविवार को कई जगह दबिश दी गई. सरायइनायत के डिहवा गांव स्थित उसके घर पर पुलिस ने छापामार कार्रवाई की. हालांकि घर तो दूर पूरे गांव में उसके बारे में पुलिस को कुछ खास क्लू नहीं मिले. वहां से लौटी नैनी पुलिस ने उसकी रिश्तेदारों में भी तलाश की कोशिश की.

सुराग के लिए लगाए गए मुखबिर

कुंभ मेला के प्रथम स्नान को लेकर पुलिस वैसे भी काफी व्यस्त है. इसी बीच सेंट्रल जेल की सख्त सुरक्षा में बंदी ने सेंध लगा कर सब की नींदें उड़ा दी है. गायब बंदी की तलाश में रविवार की भोर नैनी पुलिस उसके घर पहुंची. वहां परिजनों से उसके बारे में पूछताछ की. मगर, उसके बारे में पुलिस को परिजन भी कुछ नहीं बता सके. उसके परिजनों को पता चलते ही खबर देने की हिदायत देते हुए पुलिस को वहां से खाली हाथ ही लौटना पड़ा. इसके बाद मेजा और नैनी एरिया में स्थित उसकी कई रिश्तेदारियों में भी पुलिस ने दबिश दी. यहां भी उसका कुछ पता नहीं चला. उसकी तलाश में जुटी पुलिस ने मुखबिरों का जाल बिछा दिया है. नैनी इंस्पेक्टर पंकज कुमार सिंह ने कहा कि बंदी की तलाश में उसकी घर व कुछ रिश्तेदारियों में दबिश दी गई थी. मेला की वजह से व्यस्तता अधिक है. स्नान पर्व के बाद उसकी तलाश और तेज की जाएगी.

वर्जन

बंदी की तलाश में पुलिस की दबिश जारी है. मुखबिरों को भी लगा दिया गया है. पांचों आरोपितों की गिरफ्तारी के प्रयास किए जा रहे हैं.

बृजनारायण सिंह, क्षेत्राधिकारी करछना