एक दर्जन से अधिक पैसेंजर्स से लूटपाट, चार बुजुर्ग पैसेंजर्स को पीटकर किया घायल

चेनपुलिंग कर पन्हाई स्टेशन के पास रोकी ट्रेन, जीआरपी इलाहाबाद में केस दर्ज, जांच में जुटी टीम

allahabad@inext.co.in

ALLAHABAD: कुंभ मेला 2019 के दौरान संगम नगरी इलाहाबाद आने वाले लाखों तीर्थ यात्रियों की सुरक्षा व अन्य व्यवस्था की तैयारियों के बीच रविवार की देर रात चेन्नई से छपरा जा रही गंगा कावेरी एक्सप्रेस में पैसेंजर्स से लूटपाट कर बदमाशों ने पूरे सिस्टम को चुनौती दे डाली. करीब एक दर्जन से अधिक पैसेंजर्स से बदमाश ज्वैलरी व कैश के साथ ही कीमती सामान लूट ले गए. इस दौरान विरोध पर चार बुजुर्ग पैसेंजर्स को पीट कर घायल भी कर दिया. मुंबई रूट पर हुई इस घटना से रेलवे में हड़कंप मचा हुआ है. वहीं रेलवे की सुरक्षा व्यवस्था पर सवाल खड़ा हो गया है.

एस-5 कोच में सवार थे बदमाश

चेन्नई सेंट्रल से चलकर छपरा जाने वाली 12669 गंगा कावेरी एक्सप्रेस रविवार को सतना से इलाहाबाद के लिए आ रही थी. देर रात करीब 1.25 बजे पन्हाई स्टेशन पार होने के बाद स्टार्टर सिग्नल के पास पन्हाई व डभौरा स्टेशन के बीच एस-5 कोच से चेनपुलिंग कर ट्रेन रोक दी गई. ट्रेन रुकते ही ट्रेन में सवार करीब आधा दर्जन से अधिक लोग चाकू दिखा कर पैसेंजर्स को डराने लगे और ज्वैलरी व कैश मांगने लगे. पैसेंजर्स ने लूटपाट का विरोध किया तो बदमाशों ने उन पर हमला बोल दिया. चार पैसेंजर्स को मारपीट कर घायल कर दिया. पैसेंजर्स की पिटाई के बाद बदमाशों ने एस 5, एस 6, एस 7 और एस 9 में सवार करीब 11 पैसेंजर्स से मंगल सूत्र, सोने की चेन, अंगूठी, कंगन एवं नगद रुपये लूट लिए.

विरोध पर पैसेंजर्स से मारपीट

लूटपाट का विरोध करने पर बदमाशों ने पैसेंजर्स पर हमला किया. हमले में चेन्नई सेंट्रल से वाराणसी के लिए एस-7 कोच में सीट नंबर दो पर सफर कर रहीं महिला विनोदिनी 50 वर्ष, एस-9 कोच में सीट नंबर 65 व 66 पर विजयवाड़ा स्टेशन से वाराणसी के लिए सवार पैसेंजर एन मोहन राव 59 वर्ष, जी पद्मनाभन राव 68 वर्ष घायल हो गए. नागपुर से छपरा स्टेशन के लिए एस-5 कोच में सीट नंबर 26 पर सवार पैसेंजर्स अशोक मंगल सिंह 48 वर्ष को भी चोट आई.

मौके पर पहुंचे कई अधिकारी

पैसेंजर्स के साथ मारपीट और लूटपाट के बाद बदमाश चलती ट्रेन से उतर कर फरार हो गए. कोच कंडक्टर राज सिंह व टिकट परीक्षक सेवा राम झारिया ने ट्रेन में लूटपाट की सूचना तत्काल गार्ड को दी. गार्ड ने घायल पैसेंजर्स का तत्काल प्राथमिक उपचार किया. इसके बाद स्टेशन मास्टर मानिकपुर ने एसओ चित्रकूट, डीएम व एसपी को लूटपाट की जानकारी दी. रेलवे के अधिकारियों को भी जानकारी दी गई. देर रात 2.35 पर सिविल पुलिस भी मौके पर पहुंच गई. घायलों के प्राथमिक उपचार व अधिकारियों द्वारा पैसेंजर्स से बातचीत के बाद देर रात 3.13 बजे ट्रेन घटना स्थल से इलाहाबाद के लिए रवाना हुई.

जंक्शन पर पहुंचे अधिकारी

सोमवार भोर में 5.25 पर ट्रेन इलाहाबाद जंक्शन के प्लेटफार्म नंबर आठ पर पहुंची. ट्रेन पहुंचने के पहले ही रेलवे के मंडल वाणिज्य प्रबंधक नवीन दीक्षित, मंडल वाणिज्य प्रबंधक अमन वर्मा, सहायक वाणिज्य प्रबंधक पंकज कुमार त्रिपाठी, वरिष्ठ मंडल सुरक्षा आयुक्त अमरेश कुमार, सहायक सुरक्षा आयुक्त आरपी तोमर, पुलिस अधीक्षक रेलवे एवं अन्य अधिकारी जंक्शन पहुंच गए.

पैसेंजर्स का किया गया इलाज

ट्रेन रूकते ही मंडल चिकित्सा अधीक्षक डॉ. राकेश निगम व मंडल चिकित्सा अधिकारी डॉ. परवेज अहमद एवं डॉ. संजय कुमार की टीम ने घायल पैसेंजर्स को अटैंड किया. घायलों का प्राथमिक उपचार करने के साथ ही चोटिल पैसेंजर्स को 500 रुपये दिया गया. घायलों में शामिल 50 वर्षीय महिला विनोदिनी उसी समय वाराणसी चली गई. अशोक मंगल सिंह, एन मोहन राव व जी पद्मनाभन राव को रेलवे चिकित्सालय में एडमिट कराया गया. अशोक मंगल सिंह को सारनाथ एक्सप्रेस से वाराणसी भेजा गया. एन मोहन राव व जी पद्मनाभन राव को रेलवे एडमिनिस्ट्रेशन द्वारा दोपहर 15.50 बजे कार से वाराणसी भेजा गया. जीआरपी इलाहाबाद द्वारा जानलेवा हमला के साथ लूट व डकैती के आरोप में धारा 395 एवं 397 के तहत अज्ञात बदमाशों के विरूद्ध मुकदमा दर्ज किया गया. जीआरपी मानिकपुर द्वारा घटना की जांच की जा रही है. बदमाशों की तलाश के लिए टीम लगा दी गई है.