- कोसी एक्सप्रेस के कैंसिल होने से दूसरे ट्रेनों पर बढ़ा प्रेशर

- पटना सिटी और फतुहा से डेली पटना आते हैं हजारों पैसेंजर्स

श्चड्डह्लठ्ठड्ड@द्बठ्ठद्ग3ह्ल.ष्श्र.द्बठ्ठ

क्कन्ञ्जहृन् : ट्रेन से डेली आने-जाने वाले पैसेंजर्स की मुसीबतें बढ़ गई हैं. कुछ ट्रेनों के कैंसिल होने से पटना-मोकामा रूट पर दूसरी ट्रेनों के ऊपर प्रेशर बढ़ गया है. डेली पैसेंजर्स को यह प्रॉब्लम 24 जून से होगी. दरअसल, रेलवे एडमिनिस्ट्रेशन ने पटना और सहरसा के बीच डेली चलने वाली 15281 अप व 15282 डाउन कोसी एक्सप्रेस को कैंसिल कर दिया है. ड्यूटी आवर में इस ट्रेन का टाइम होने से गवर्नमेंट और प्राइवेट जॉब करने वाले हजारों लोग इस ट्रेन से डेली पटना आते हैं और वापस लौटते हैं. मोकामा, बाढ़, बख्तियारपुर, खुशरूपुर, फतुहा और पटना सिटी से हजारों लोग ड्यूटी पर पहुंचने के लिए इस ट्रेन को चुनते हैं. कोसी एक्सप्रेस ज्यादातर राइट टाइम ही पटना जंक्शन पहुंचा करती हैं. इसी तरह 13252 डाउन और 13251 अप राजेन्द्र नगर-इस्लामपुर एक्सप्रेस के कैंसिल होने से भी डेली पैसेंजर्स को काफी परेशानी हो रही है. पटना के रहने वाले वैसे लोग जिनकी ड्यूटी पटना सिटी, फतुहा, दनियावां और हिलसा में है, वे सभी इसी ट्रेन से डेली जाया करते हैं. रेलवे एडमिनिस्ट्रेशन ने नेताजी सुभाष चंद्र बोस गोमो स्टेशन पर चल रहे रूट रिले इंटर लॉकिंग वर्क के कारण कई ट्रेनों को कैंसिल कर दिया है. साथ ही कुछ ट्रेनों के रूट को बदल दिया.

नहीं मिली पैर रखने तक की जगह

कोसी एक्सप्रेस के कैंसिल होने से ड्यूटी आवर की दूसरी ट्रेनों पर प्रेशर बढ़ गया. राजगीर से दानापुर जाने वाली पैसेंजर ट्रेन और राजगीर नई दिल्ली श्रमजीवी एक्सप्रेस में पैसेंजर्स की सोमवार को भीड़ इतनी बढ़ गई की पांव रखने तक की जगह नहीं मिली. दोनों ट्रेन के फतुहा व पटना सिटी पहुंचने पर स्थिति और भी खराब हो गई. बोगियों के अंदर भीड़ इतनी थी कि राजेन्द्र नगर टर्मिनल पर अधिकांश पैसेंजर्स उतर ही नहीं सके. ट्रेन के पटना जंक्शन पहुंचने पर ही उन्हें उतरना पड़ा.

थोड़ी सी परेशानी झेलनी पड़ेगी

ईस्ट सेंट्रल रेलवे के सीपीआरओ अरविंद कुमार रजक ने बताया कि डेली पैसेंजर्स की परेशानी को ध्यान में रखते हुए रेलवे एडमिनिस्ट्रेशन की एक मीटिंग भी हुई. कोसी एक्सप्रेस के परिचालन पर चर्चा हुआ, पर इस ट्रेन का एक रेक फंस जाने के कारण इस मामले में अब कुछ नहीं हो सकता. एक सप्ताह तक पैसेंजर्स को थोड़ी परेशानी झेलनी पड़ेगी.