allahabad@inext.co.in
ALLAHABAD: शिलाखाना मोहल्ले में पुलिस विभाग से रिटायर्ड दरोगा अब्दुल समद खां के सभी हत्यारोपियों को पुलिस ने मंगलवार को गिरफ्तार कर लिया. वीडियो में शामिल तीन हत्यारों समेत एक अन्य को गिरफ्तार किया गया है. बता दें कि सोमवार सुबह रिटायर्ड दरोगा की हत्या तब की गई थी, जब वे साइकिल से मार्केट से घर लौट रहे थे. घर से कुछ दूर पहले आरोपित मो. युसुफ, राजिक व शेबू पुत्र जुनैद कमाल ने घेरकर लाठी डंडे से पीट-पीट कर मार डाला था. मामले में जारी वीडियो का संज्ञान लेते हुए हाईकोर्ट ने पुलिस को फटकार लगाई तो अचानक तेज हुई पुलिस ने सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया. इसके अलावा मारपीट के आरोप में तीन महिलाओं शना, मेहंदी व हिना को भी गिरफ्तार किया गया है. पुलिस के अनुसार हत्या से पहले हुई मारपीट में ये महिलाएं शामिल थीं.

प्रापर्टी को लेकर विवाद शुरू
प्रतापगढ़ के चिलबिला निवासी अब्दुल समद खां पुलिस विभाग में दरोगा थे. करीब तीस साल पहले वे शिवकुटी शिलाखाना मोहल्ले में रिश्तेदार की जमीन पर आकर बस गए. इसके बाद उनका पड़ोसी व हिस्ट्रीशीटर जुनैद कमाल से प्रापर्टी को लेकर विवाद शुरू हो गया. पुलिस द्वारा बताया गया कि जिस जमीन का बैनामा कराकर दरोगा रहते थे. उस पर पहले से जुनैद व उसके बेटों की नजर थी. इसी को लेकर दोनों परिवारों में अक्सर गालीगलौज व कहासुनी होती रहती थी. जुनैद के मकान की एक खिड़की अब्दुल के घर की तरफ खुलती थी. जिसे लेकर भी दोनों परिवारों में विवाद होता रहता था. कई बार मारपीट तक की नौबत आ चुकी थी. सोमवार को भी दोनों पक्षों में विवाद हुआ था. विवाद के बाद अब्दुल साइकिल लेकर मार्केट चले गए. लौटते समय मो. युसुफ, शेबू व इब्ने ने अचानक घेर कर पीटना शुरू कर दिया था. इससे अब्दुल की मौत हो गई.

हाईकोर्ट ने लिया संज्ञान
दिनदाहाड़े सिटी की सड़कों पर रिटायर्ड दरोगा अब्दुल समद खां की बेरहमी से हत्या का वीडियो शोसल मीडिया पर वायरल हुआ तो हाईकोर्ट ने इसे संज्ञान में ले लिया और पुलिस अधिकारियों को हत्याकांड को लेकर जमकर फटकार लगाई. हाई कोर्ट का कहना था जब वीडियो में हत्यारे साफ नजर आ रहे हैं तो फिर पुलिस इन्हें गिरफ्तार क्यों नहीं कर पा रही. इसके बाद पुलिस हरकत में आई और आनन फानन में वीडियो में दारोगा को पीटते नजर आ रहे तीनों हत्यारे मो. युसुफ, शेबू व इब्ने को कर्जन पुल के पास से दबोच लिया.