-नेता लल्लन कुमार को मदद करने का है मामला

श्चड्डह्लठ्ठड्ड@द्बठ्ठद्ग3ह्ल.ष्श्र.द्बठ्ठ

क्कन्ञ्जहृन् : कांग्रेसी नेता लल्लन कुमार से यारी दारोगा पर भारी पड़ गई है. मदद पहुंचाने के लिए केस डायरी में ही बड़ा खेल कर दिया था जो अधिकारियों की नजर में आ गया और सिपाही के साथ दारोगा को भी सस्पेंड कर दिया गया. अब मदद भी बेकार हो गई है क्योंकि अब नेता को भी गिरफ्तार किया जाएगा.

डीआईजी ने की समीक्षा

कोतवाली थाना की स्टेशन डायरी में छेड़छाड़ और ज्वेलर से कांग्रेस नेता ललन कुमार के किए गए फर्जीवाड़ा की समीक्षा खुद सेंट्रल रेंज के डीआईजी राजेश कुमार ने की है. समीक्षा के बाद डीआईजी ने ललन कुमार को गिरफ्तार करने का आदेश दिया है. साथ ही इनके फरार होने पर कानूनी प्रक्रिया के तहत ललन कुमार की संपत्ति की कुर्की जब्ती करने को कहा है.

मदद की मिली बड़ी सजा

डीआईजी राजेश कुमार ने बताया कि पटना सहित दूसरे जिलों से ललन कुमार की आपराधिक मुकदमों की पड़ताल करने का निर्देश दिया है. उन्होंने पटना पुलिस को निर्देश दिया है कि वह पूरी जानकारी इकट्ठा करे. डीआईजी ने इस मामले में सबसे पहले कोतवाली थाना की स्टेशन डायरी से छेड़छाड़ करने वाले और फर्जीवाड़ा के खेल में ललन कुमार का साथ देने वाले सब इंस्पेक्टर विक्त्रमादित्य झा और एक सिपाही को तत्काल प्रभाव से सस्पेंड कर दिया.

एक नजर में मामला

-बुधवार को फर्जीवाड़े का यह खेल सामने आया था.

-डीआईजी ने सिटी एसपी सेंट्रल अमरकेश दरपिनेनी को पूरे मामले की जांच का आदेश दिया था.

-सिटी एसपी की रिपोर्ट आने के बाद खुद डीआईजी ने ललन कुमार के फर्जीवाड़ा की समीक्षा की.

-खेल से जुड़े एसके पुरी, गांधी मैदान और कोतवाली थाना में दर्ज केस की स्टडी किया.

-डीआईजी ने पाया कि चारो केस काफी गंभीर हैं.