नई दिल्ली, जेएनएन। IPL 2019 MI vs DC, आइपीएल के 34वें मैच में दिल्ली की टीम को रोहित की मुंबई ने 40 रन से हरा दिया। लगातार तीन मैच जीतने वाली दिल्ली को अपने ही घर में मुंबई के हाथों हार का सामना करना पड़ा। वहीं मुंबई इस मैच में जीत के साथ अंकतालिका में दूसरे स्थान पर काबिज हो गई है। मुंबई ने नौ मैचों में छह मैच जीते हैं और उसे तीन में हार का सामना करना पड़ा है। इस मैच में पहले बल्लेबाजी करते हुए मुंबई की टीम ने 20 ओवर में पांच विकेट पर 168 रन बनाए थे। दिल्ली की टीम को जीत के लिए 169 रन का लक्ष्य मिला था, लेकिन ये टीम अपने घरेलू मैदान पर 20 ओवर में नौ विकेट पर 128 के स्कोर तक ही पहुंच सकी और 40 रन से इस मैच को गंवा दिया।

दिल्ली की पारी
दिल्ली के ओपनर्स ने दूसरी पारी में इस टीम को अच्छी शुरुआत दिलाई और धवन व पृथ्वी के बीच पहले विकेट के लिए 49 रन की साझेदारी हुई। इसके बाद धवन 35 रन पर आउट हो गए और फिर दिल्ली के विकेट गिरने का सिलसिला नहीं रुक पाया। दिल्ली का दूसरा विकेट पृथ्वी शॉ के रूप में गिरा और उन्हें 20 रन पर राहुल चहर ने कैच आउट करवा दिया। दिल्ली को तीसरा झटका कृणाल पांड्या ने दिया और उन्होंने कोलिन मुनरो को तीन रन पर क्लीन बोल्ड कर दिया। कप्तान श्रेयस अय्यर भी कुछ नहीं कर पाए और तीन रन पर उन्हें राहुल चहर ने क्लीन बोल्ड कर दिया। रिषभ पंत का बल्ला भी इस मैच में नहीं चला और वो सात रन पर जसप्रीत बुमराह का शिकार बने। क्रिस मौरिस को 11 रन पर मलिंगा ने आउट किया। वहीं कीमो पॉल शून्य पर रन आउट हो गए। अक्षर पटेल ने कुछ दम दिखाया, लेकिन वो 26 रन बनाकर बुमराह की गेंद पर बोल्ड आउट हो गए। कगीसो रबादा को नौ रन पर बुमराह ने चलता किया। अमित मिश्रा 6 रन बनाकर नाबाद रहे। मुंबई की तरफ से राहुल चहल ने तीन, बुमराह ने दो जबकि हार्दिक, कृणाल व मलिंगा ने एक-एक विकेट लिए। इस हार के बाद दिल्ली की टीम अंक तालिका में तीसरे नंबर पर पहुंच गई है। इस टीम ने अब तक नौ में से पांच मैच जीते हैं और चार में उसे हार मिली है। दिल्ली के कुल 10 अंक हैं।
ipl 2019,mi vs dc : पांड्या ब्रदर्स के आगे गेंदबाज बेदम,दिल्ली का घर में निकला दम
मुंबई की पारी

दिल्ली के फिरोजशाह कोटला मैदान पर मुंबई इंडियंस के खिलाफ अपने घर में उतरी दिल्ली के स्पिनरों ने शानदार गेंदबाजी की। हालांकि अंत में हार्दिक पांड्या और क्रुणाल पांड्या की तेजतर्रार पारियों के दम पर मुंबई ने 20 ओवर में पांच विकेट पर 168 रन बनाए। वैसे देखा जाए तो दिल्ली की तुलना में मुंबई की टीम ने पिच को अच्छे से पढ़ा। तभी दिल्ली ने जहां दो स्पिनरों अमित मिश्रा और अक्सर पटेल को जगह दी, तो वहीं मुंबई ने क्रुणाल, जयंत यादव और राहुल चाहर को टीम में शामिल किया।

रोहित और क्विंटन की शानदार शुरुआत
टॉस जीतकर मुंबई इंडियंस ने पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया। कप्तान रोहित शर्मा और क्विंटन डिकॉक ने मुंबई को शानदार शुरुआत दिलाई। दोनों ने तेज गेंदबाज क्रिस मौरिस और कीमो पॉल के ओवरों में 16-16 रन निकाले। दोनों ने पावरप्ले में 57 रन जोड़े। इस बीच पावरप्ले खत्म होते ही कप्तान श्रेयस अय्यर ने लेग स्पिनर अमित मिश्रा को गेंद थमा दी। अमित ने कप्तान को निराश नहीं करते हुए रोहित शर्मा की पहली ही गेंद पर गिल्लियां बिखेर दीं। रोहित अमित की गुगली को नहीं समझ सके और क्लीन बोल्ड होकर पवेलियन लौट गए। रोहित ने 22 गेंद में तीन चौके और एक छक्के की मदद से 30 रन बनाए।

मध्यक्रम लड़खड़ाया
स्पिनरों के आते ही दिल्ली की पिच पर मुंबई के बल्लेबाजों की गति थम गई। अमित के बाद अक्सर पटेल ने अपने पहले ही ओवर में इशान किशन की जगह खेल रहे बेन कटिंग को दो रनों पर एलबीडब्ल्यू कर दिया। मुंबई के लिए अभी तक शानदार पारियां खेल रहे डिकॉक का बल्ला इस मुकाबले में भी चला, लेकिन इस बार वह अपनी वजह से आउट नहीं हुए। सूर्यकुमार यादव ने गली में शॉट खेला। यादव गेंद की ओर देखते रहे, जबकि डिकॉक अपने छोर से उनके छोर तक पहुंच गए। अक्षर ने रिषभ पंत के साथ मिलकर डिकॉक को रन आउट करके पवेलियन भेज दिया। डिकॉक ने 27 गेंद में दो चौके और दो छक्कों की मदद से 35 रन बनाए। 13.5 ओवर में जाकर मुंबई की टीम ने तीन विकेट के नुकसान पर 100 रन पूरे किए।

हैप्पी बर्थ डे : IPL में दनादन रन बना रहे केएल राहुल को अनुष्का ले गईं थी डिनर पर, ये थी वजह

IPL में लगातार हार रहे कोहली ने बदला अपना रूप, बन गए सरदार

पांड्या ब्रदर्स ने खेली तूफानी पारी
इसके बाद अंत में पांड्या बंधुओं ने मुंबई के लिए तेजी से रन बनाना शुरू किया। इस आइपीएल में हार्दिक की बल्लेबाजी एक अलग ही स्तर की नजर आ रही है। वह टीम के लिए फिनिशर की भूमिका शानदार ढंग से निभा रहे हैं। इस मैच में भी उन्होंने 15 गेंद में दो चौके और तीन छक्कों की मदद से 32 रन बनाए। हार्दिक की फॉर्म विश्व कप में भारत के लिए अच्छा संकेत है। हार्दिक के आउट होने के बाद क्रुणाल ने 26 गेंद में पांच चौकों की मदद से नाबाद 37 रन बनाकर मुंबई के स्कोर को मजबूती दी। दिल्ली ने इस मैच में काफी नियंत्रित गेंदबाजी की। इसका अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि 19वें ओवर में दिल्ली ने पहली वाइड गेंद की। दिल्ली के लिए रबादा ने दो, अमित और अक्सर ने एक-एक विकेट लिया।