देहरादून.

बारिश से हुए नुकसान का जायजा लेने के लिए भोपालपानी और आसपास के क्षेत्रों में गये सीएम त्रिवेन्द्र सिंह रावत सड़कों पर पड़े गड्ढों को देखकर भड़क गये. उन्होंने दीवारों पर पड़ी दरारों और धंसी हुई सड़कों की भी जल्द मरम्मत करने के आदेश दिये. सीएम ने लोक निर्माण विभाग के अधिकारियइन मामलों की

पुल निर्माण में अनियमितता

सीएम ने मंगलवार को रायपुर-थानौ मार्ग के मध्य निर्माणाधीन सौंडा-सरौली एवं भोपालपानी के पुल का स्थलीय निरीक्षण किया. भोपालपानी के पुल की सड़कों को धंसा हुआ पाया गया.पुल की दीवारें भी बाहर निकल गई थी.

--

अधिकारियों को फटकार

सीएम ने लोनिवि के अधिकारियों अैार कार्यदायी संस्था के प्रतिनिधियों को कड़ी फटकार लगाई. प्रमुख अभियंता लोनिवि को मामले की तत्काल जांच के आदेश दिए. सीएम ने अधिकारियों से पूछा कि क्या उनके ऊपर निर्माण कार्य को शीघ्र समाप्त करने का दबाव था. उन्होंने इस प्रकार की घटनाओं में संलिप्त अधिकारी, कर्मचारी एवं ठेकेदार सख्त कार्रवाई से नहीं बच सकते. निर्माण कार्यो में किसी भी प्रकार की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी.

--

लोगों से की बातचीत

सीएम ने स्थानीय लोगों से भी बातचीत की. कहा कि जांच में सभी तथ्य सामने आने पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी. इस पुल का काम 30 सितंबर तक पूरा कर लिया जाएगा. इस दौरान लोनिवि के चीफ इंजीनियर आरसी पुरोहित, एनएच के चीफ इंजीनियर हरि ओम शर्मा, सुपरिटेंडेंट इंजीनियर राजेश शर्मा आदि उपस्थित थे.