-लड़की के अपहरण के मामले में दबाव बनाने के लिए पकड़ा था

BAREILLY: कैंट के कांधरपुर में लड़की के अपहरण के मामले में आरोपी के ममेरे भाई की मां की सदमे में मौत हो गई. पुलिस ने ममेरे भाई को दबाव बनाने के लिए रात में पकड़ा था. आरोप है कि मां की मौत के बाद भी पुलिस ने उसे नहीं छोड़ा. परिवार वाले काफी डरे हुए हैं. वहीं एसएचओ कैंट देवेंद्र कुमार का कहना है कि लड़की के अपहरण की एफआईआर दर्ज है. आरोपी के ममेरे भाई को पूछताछ के लिए पकड़ा था लेकिन उसे छोड़ दिया गया था.

फुफेरा भाई लड़की को लेकर गया

कासगंज का रहने वाला विपिन, कांधरपुर में ननिहाल में रहता है. उसका पास के ही गांव की लड़की से प्रेम प्रसंग चल रहा है. वह थर्सडे को लड़की को लेकर चला गया. इस मामले की पुलिस से शिकायत की गई तो पुलिस ने मोहल्ले में ही रहने वाले उसके ममेरे भाई 17 वर्षीय नाबालिग को पकड़ लिया. नाबालिग के पिता सोमपाल, कुंवर गांव की पीएनबी ब्रांच में कैशियर हैं. जब इस बारे में नाबालिग की मां सुनीता को पता चला तो वह परेशान हो गई. फ्राइडे सुबह परिजन उसे छुड़ाने गए तो पुलिस ने छोड़ने से इनकार कर दिया. उसके बाद शाम को सुनीता की तबियत बिगड़ गई. परिजन उन्हें प्राइवेट हॉस्पिटल लेकर पहुंचे लेकिन इलाज के दौरान सुनीता की मौत हो गई.