20 अगस्त से 7 सितम्बर तक का फैक्ट एंड फिगर

2401-चार ब्लॉकों में बुखार के मरीज मिले

1196-मरीजों की स्लाइड बनाई गई

46-मलेरिया की पुष्टि हुई

3831-पैकेट ओआरएस पैकेट वितरित हुए

10,936-टीमों ने कुल मरीजों का किया इलाज

6908-क्लोरीन बांटी गई

मृतकों की संख्या

4-बुखार से मृतकों की संख्या

4-मौत अन्य कारणों से

18 कुल मृतकों की संख्या

6-गांव में हुई हैं मौतें

मलेरिया विभाग का एक्शन

25-लर्वा स्प्रे कराए गए गांव

25- फागिंग कराए गए गांव

1-पयराथ्रम छिड़काव कराए गए गांव

=============

आंवला क्षेत्र में बुखार का प्रकोप पूरी तरह से नियंत्रण में नहीं हो पा रहा है. फ्राइडे को रामनगर के गांव मनौना में जमील अहमद के बेटे इलाही बख्स की बुखार से मौत हो गई. जबकि इसी गांव में पिछले सप्ताह कल्यान मौर्य, गफ्फार, ,खुर्शीदन, गुलफिजा व निशा सहित 6 लोगों की मौत बुखार से हो चुकी है. भमोरा के गांव हजरतपुर में फ्राइडे को सुभानी की 11 वर्षीय पुत्री अख्तरी तथा सलीम के तीन वर्षीय बेटे इश्के अली की मौत हो गई. दोनों को तीन दिन से बुखार आ रहा था.

एम्बुलेंस की भी ले मदद

गांव में बुखार के संक्रमण फैलने की जानकारी मिलते ही सीएमओ विनीत शुक्ला ने पीएचसी प्रभारी को कैंप लगाकर दवा बांटने के निर्देश दिए, और खुद भी कैंप में पहुंचे, मरीजों को दवा आदि वितरित की. सीएमओ ने ग्रामीणों से बुखार को लेकर बात की और उन्हें बताया कि यदि बुखार की शिकायत हो तो वे लोग नजदीकी स्वास्थ्य केन्द्र पर जाकर दवा लें. जरूरत हो तो 108 एम्बुलेंस का प्रयोग भी करें, उन्होनें चिकित्सा टीम को निर्देशित किया कि वे गांव में उन घरों में जाकर सर्वे करें जहां बुखार से पीडित लोग है. उन्होंने बताया कि घर के आसपास गंदगी और जलभराव न होने दे. सफाई रखें तथा पानी उबालकर पीएं. उन्होनें बताया कि स्थिति नियंत्रण में है.