-शासन ने दशमोत्तर छात्रवृत्ति के आवेदनकर्ताओं को दी राहत

-15 दिन से काम नहीं कर रहा था सर्वर, परेशान थे छात्र

allahabad@inext.co.in

ALLAHABAD: दशमोत्तर छात्रवृत्ति की आस लगाए लगभग एक लाख छात्रों को शासन ने राहत दे दी है. लगातार खराब चल रहे सर्वर की समस्या से निजात दिलाते हुए ऑनलाइन आवेदन की अंतिम तिथि को 10 अक्टूबर तक बढ़ा दिया गया है. इसमें अभी तक 31 अगस्त तक ही आवेदन किया जा सकता था. वहीं विश्वविद्यालय और अन्य संस्थाओं से जुड़े अभ्यर्थियों के लिए कोर्स और फीस सत्यापित करने की लास्ट डेट 10 सितंबर तक बढ़ा दी गई है. इसमें अभी तक 30 अगस्त लास्ट डेट थी. वहीं कक्षा 9 और 10 के छात्रों की अंतिम तिथि में कोई बढ़ोतरी नहीं की गई है.

हर स्टेप पर आ रही दिक्कत

छात्रवृत्ति के ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया पिछले 15 दिन से पूरी नही हो पा रही है. अधिकृत वेबसाइट तो खुल जाती है लेकिन डाक्यूमेंट अपलोड नहीं हो रहे हैं. एक स्टेप के बाद वेबसाइट हैंग हो जाती है. इसके बाद फॉर्म भरने में घंटों लगाने के बाद भी सफलता नहीं मिलती. बता दें कि हर साल सामान्य, ओबीसी, अल्पसंख्यक और एससी-एसटी मिलाकर 1.50 लाख से अधिक आवेदन होते हैं. जबकि सूत्रों की माने तो अब तक महज 22 हजार आवेदन ही हुए हैं.

सुबह से अटकी थीं सांसें

शासन ने आवेदन की अंतिम तिथि 31 अगस्त तय कर रखी थी, जिसके चलते छात्रों की सांस अटकी हुई थी. वह लगातार तिथि बढ़ाए जाने की मांग शासन से कर रहे थे. ऑनलाइन आवेदन नहीं हो पाने और अंतिम तिथि नजदीक होने पर छात्र परेशान थे. गुरुवार को भी सुबह से शाम तक विकास भवन स्थित समाज कल्याण विभाग में छात्रों का मजमा लगा हुआ था. उधर, शुक्रवार से वेबसाइट के प्रॉपर काम करने की बात कही जा रही है. सोर्सेज का कहना है कि सर्वर में चल रही प्रॉब्लम को दूर कर दिया गया है.

वेबसाइट पर डेढ़ बढ़ने की सूचना दी जा रही है लेकिन अभी तक हमें कोई अधिकारिक आदेश प्राप्त नहीं हुआ है. लेकिन शासन के इस कदम से बड़ी संख्या में छात्रों को राहत मिली है. सर्वर खराब होने से उनका आवेदन नहीं हो पा रहा था.

-प्रवीण कुमार सिंह, जिला समाज कल्याण अधिकारी, इलाहाबाद