- किडनी गैंग के सरगना अमित राऊत की एजेंट थी चांदना

- दून पुलिस ने कोलकाता से किया था गिरफ्तार, ट्रांजिंट रिमांड पर लाई गई दून

dehradun@inext.co.in
DEHRADUN: किडनी कांड की एजेंट और अमित राऊत के काले कारनामों की राजदार चांदना गुडि़या को लेकर पुलिस टीम सोमवार की देर रात दून पहुंच गई. उसे मंगलवार को कोर्ट में पेश किया जाएगा. इससे पहले एसएसपी व अन्य अधिकारी चांदना से पूछताछ करेंगे.

कोलकाता में किया था अरेस्ट

किडनी कांड की एजेंट चांदना गुडि़या को शनिवार को कोलकाता में गिरफ्तार किया गया था. लालतप्पड़ चौकी इंचार्ज भुवन पुजारी ने उसे अभिरक्षा में लेकर वहां की कोर्ट में पेश किया. जहां से ट्रांजिट रिमांड पर उसे दून लाया गया. पुलिस के अनुसार, चांदना किडनी गैंग के सरगना अमित राऊत की एजेंट थी. वह वहां स्वास्थ्य केंद्र भी चलाती थी, इसके चलते वह कोलकाता के दूरस्थ इलाकों में जाती और गरीब तबके के लोगों को झांसे में लेकर दून स्थित गंगोत्री चेरिटेबल हास्पिटल भेजती थी. यहां इन लोगों की किडनी निकालकर उन्हें कुछ रुपये थमाकर वापस भेज दिया जाता था.

75 लोगों की निकलवाई थी किडनी

पुलिस के अनुसार, चांदना 75 लोगों की किडनी निकलवा चुकी है. इसका खुलासा बीते साल 11 सितंबर को ही हो गया था, लेकिन गिरोह का भंडाफोड़ होने की भनक पाते ही चांदना फरार हो गई. दून पुलिस तभी से उसकी तलाश कर रही थी. एसएसपी निवेदिता कुकरेती ने बताया कि चांदना से पूछताछ में गिरोह से जुड़ी और जानकारियां जुटाई जाएंगी.

मिल सकता है अक्षय का सुराग

पुलिस चांदना के मोबाइल नंबरों की कॉल डिटेल भी खंगाल रही है. बताया जा रहा है कि उसने वह नंबर बंद कर दिया है, जिसके जरिये वह अमित राऊत और जावेद खान से संपर्क करती थी. पुलिस ने उस नंबर की भी कॉल डिटेल संबंधित मोबाइल कंपनी से मांगी है. साथ ही वर्तमान में प्रयोग किए जा रहे मोबाइल की भी डिटेल निकलवाई जा रही है. पुलिस को उम्मीद है कि चांदना से फरार अक्षय राऊत की जानकारी मिल सकती है.

खुद की भी बेची थी किडनी

चांदना ने सबसे पहले खुद की किडनी गैंग को बेची थी. इसके बाद वह भी इस धंधे में आ गई और किडनी गैंग के सरगना अमित राऊत की एजेंट बन गई.