हमेशा प्रेगनेंसी ही नहीं होती पीरियड मिस होने का कारण

तनाव के कारण
अगर आप बहुत तनाव में हैं तो स्‍ट्रेस हार्मोन के ऊपर सीधा असर पड़ता है जो कि एस्ट्रोजन और प्रोजेस्टेरोन जैसे दो सेक्‍स हार्मोन के शरीर में ज्‍यादा या कम बनने के लिये जिम्‍मेदार होता है। ऐसे में अगर खून में स्‍ट्रेस हार्मोन बढ जाता है तो महिलाओं के पीरियड साइकिल पर इसका गहरा असर पड़ता है।

हमेशा प्रेगनेंसी ही नहीं होती पीरियड मिस होने का कारण

गर्भनिरोधक दवाओं के कारण
जो महिलायें गर्भ निरोधक दवाईयों का इस्‍तेमाल कर रही होती हैं तो दवा बंद करते हीसोचने लगती हैं कि वो कभी भी गर्भवती हो सकती हैं जबकि बर्थ कंट्रोल पिल्‍स के साथ एडजस्‍ट करने में शरीर को कई महीने लग जाते हैं। ऐसे में महावारी अनियमित हो सकती है।

हमेशा प्रेगनेंसी ही नहीं होती पीरियड मिस होने का कारण

जरूरत से ज्‍यादा व्‍यायाम
माहावारी के लिए शरीर को शक्‍ति चाहिये और अगर कोई महिला जिम में जा बहुत ज्‍यादा एक्‍सरसाइज करती है और इसे बर्न कर देती हैं, तो शरीर कमजोरी महसूस करने लगता है और इसका सीधाअसर पीरियड्स पर पड़ता है और वो मिस हो सकते हैं।



हमेशा प्रेगनेंसी ही नहीं होती पीरियड मिस होने का कारण

वजन का अचानक घटना बढ़ना
यही कारण है अचानक वजन कम होना या बढ़ना भी महावारी को प्रभावित करता है। वजन के घटने या बढ़ने से हार्मोन में परिवर्तन होता है और पीरियड्स गड़बड़ा जाते हैं।

हमेशा प्रेगनेंसी ही नहीं होती पीरियड मिस होने का कारण

POS के कारण
ओवरी में सिस्‍ट और उसके कारण सही समय पर पीरियड्स का न आना Polycystic Ovary Syndrome मतलब पीसीओएस कहलाता है।

हमेशा प्रेगनेंसी ही नहीं होती पीरियड मिस होने का कारण

लंबी बीमारी के कारण
अगर आप लंबे समय से बीमार हों और इसकी वजह से आपको दवाइयां लेनी पड़ी थीं तो भी आपके पीरियड्स कुछ दिनों के लिये टल सकते हैं। ऐसा इसलिये क्‍योंकि कुछ दवाइयां एस्ट्रोजन और प्रोजेस्टेरोन के लेबल पर असर डालती हैं।

हमेशा प्रेगनेंसी ही नहीं होती पीरियड मिस होने का कारण

थायराइड के कारण
थायराइड की समस्या बढ़ जाये या ओबेसिटी जैसी समस्या होने पर भी महिलाओं में पीरियड् गड़बड़ा सकते हैं या बंद हो सकता है।

Health News inextlive from Health Desk

inextlive from News Desk