रात में बाहर से भेजा गया था खाना
नई दिल्ली (आईएएनएस)। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल का  लेफ्टिनेंट गवर्नर अनिल बैजल के कार्यालय में धरना जारी है।अरविंद केजरीवाल के धरने को 16 घंटे से ज्यादा का समय हो गया है।सूत्रों की मानें तो धरने में सहयोग दे रहे केजरीवाल के तीन साथियों उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया, सत्येंद्र जैन और गोपाल राय को रात में बाहर से खाना भेजा गया था। सीएम केजरीवाल कल शाम  5.30 बजे एलजी कार्यालय में अपने साथियों के साथ गए थे। इस दौरान एलजी से मुलाकात के दौरान मुख्यमंत्री ने उन्हें एक ज्ञापन देते हुए तीन मांगों पर तत्काल अनुमति देने की मांग की।

मांगे पूरी न होने तक वह बैठे रहेंगे

अरविंद केजरीवाल की इन मांगों में एक दिल्ली के आर्इएएस अधिकारी जो चार माह से हड़ताल पर हैं, उन्हें काम पर लौटने का आदेश दिए जाने के की है। दूसरी, जिन अधिकारियों ने चार माह से काम लटका रखा है, उन पर कार्रवाई की जाने की है। इसके अलावा तीसरी, राशन की घर पर ही डिलीवरी योजना को मंजूरी दे दिए जाने की है। हालांकि अनिल बैजल ने इसके लिए साफ इन्कार कर दिया।इस पर मुख्यमंत्री अन्य मंत्रियों सहित एलजी के चैंबर से निकल प्रतीक्षालय में आकर बैठ गए आैर कहा कि अब उनके पास कोर्इ विकल्प नहीं बचा है। एेसे में मांगे पूरी न होने तक वह यहीं बैठे रहेंगे।

बाहर सुरक्षा को बढ़ा दिया गया
इसके बाद सीएम केजरीवाल ने ट्वीट्स के माध्यम से पूरे मामले की विस्तृत जानकारी लोगों को दी।सीएम  ने मंगलवार सुबह भी ट्वीट किया कि उनका "संघर्ष" चल रहा था। "मेरे प्यारे दिल्ली वासियों, गुड मॉर्निंग। संघर्ष चालू है।"  बता दें कि केजरीवाल ने सोमवार की रात को एलजी अनिल बैजल के प्रतीक्षा कक्ष में सोफे पर बिताया। इस दौरान उनकी पार्टी के कई पार्टी नेता लेफ्टिनेंट गवर्नर के कार्यालय के बाहर सड़क पर बैठ केजरीवाल का समर्थन बता रहे थे।वहीं दिल्ली सीएम के धरने पर बैठने के बाद  सोमवार की शाम से बैजल के कार्यालय के बाहर सुरक्षा को बढ़ा दिया गया है।

वैष्णों देवी का ये नया रास्ता है शानदार, अब तक इससे एक लाख श्रद्धालु पहुंच चुके माता के दरबार

HC में याचिका दायर कर इस सांसद ने की संसद में पीएम मोदी की अटेंडेंस चेक कराने की मांग

National News inextlive from India News Desk