स्वास्थ्य विभाग के इंतजाम से दूनाइट्स नाखुश

दून के सभी अस्पतालों में इंतजाम करने की कही बात

देहरादून,

दून में डेंगू को लेकर स्वास्थ्य विभाग की तैयारियों को लेकर दूनाइट्स ने अपनी राय दी है. पिछले सालों से डेंगू के कारण दून में मरीजों की बढ़ती संख्या और लाचार स्वास्थ्य महकमे पर चिंता भी जताई है. दूनाइट्स ने सिस्टम पर भी सवाल खड़े किए हैं. दून अस्पताल में एक मरीज को संदिग्ध अवस्था में भर्ती कराया गया था. जिसमें डेंगू के लक्षण नजर आए थे, इसके बाद आनन फानन में अस्पताल प्रबंधन ने डेंगू वार्ड बना दिया. जिसमें 6 बेड आरक्षित किए गए है. इधर सोमवार को डेंगू संदिग्ध एक महिला मौत होने से हड़कंप मच गया था.

-----------------

शुरुआत में ही अगर डेंगू से निपटने को सही कदम उठा लिए जाएं तो स्थिति खराब होने से बचाई जा सकती है. स्वास्थ्य विभाग मरीजों के आने का इंतजार करेगा तो कैसे काम चलेगा.

अखिलेश राय

---------------------------

दून अस्पताल पर ही सबका फोकस रहता है. जबकि दून में अन्य अस्पताल भी है. ऐसे में हर अस्पताल को अलर्ट रहना चाहिए. दून अस्पताल में भी सिर्फ 6 बेड रखे गए हैं. जिनको बढ़ाना चाहिए.

अमित गोयल

-------------------------

कहीं भी नगर निगम और स्वास्थ्य विभाग की तैयारी नजर नहीं आ रही है. जब हालात बिगड़ते हैं तभी विभाग अलर्ट होता है. अभी तो बस कागजों में अलर्ट है. हर साल ये ही हालात रहते हैं.

गिरीश धस्माना

-----------------------

जब संदिग्ध मरीज आने लगे हैं तो फिर विभाग को तैयारियों के साथ बिमारी से निपटने को जरूरी कदम उठाने चाहिए. हर बार विभाग मरीजों की संख्या बढ़ने का इंतजार करता है. जिससे एक साथ आफत बढ़ जाती है.

गुलशन अरोड़ा