मलेरिया विभाग ने जारी किया अलर्ट

लार्वा चेंकिंग के लिए गठित हुई टीमें

Meerut. बरसात शुरू होते ही बीमारियों ने भी दस्तक देनी शुरू कर दी है. डेंगू और चिकनगुनिया जैसी बीमारियों ने पिछले दो सालों से स्वास्थ्य विभाग को हिलाकर रखा हुआ है. हालांकि इस बार जिला मलेरिया विभाग पहले ही एक्टिव हो गया है.

गठित हुई टीमें

गौरतलब है कि गुरुवार को जिला मलेरिया विभाग की टीम को चेकिंग अभियान के दौरान शहर में छह जगहों पर डेंगू का लार्वा मिला था, जिसे नष्ट कर दिया गया. लोगों के घरों में रखे कूलर, गमलों, खाली बर्तन, पानी भरे हुए मटके, खराब पड़े टायरों के अलावा जहां भी साफ पानी जमा हो, वहीं लार्वा पनपना शुरू हो जाता है. ऐसे में सतर्कता बरतते हुए विभाग द्वारा लार्वा चेकिंग अभियान चलाया जा रहा है. इसके लिए 10 टीमों का गठन भी किया गया है.

विभागों के लिए अलर्ट जारी

इस बार स्वास्थ्य विभाग सभी सरकारी विभाग, इंडस्ट्रीज, अस्पताल, होटल्स व पब्लिक प्लेस पर चेकिंग अभियान चलाएगा. इससे पहले जिला मलेरिया विभाग ने सभी विभागों को अलर्ट जारी कर दिया हैं. साथ ही गुरुवार को चेकिंग के दौरान लार्वा मिलने 6 लोगों को नोटिस भी दिए गए थे.

सभी विभागों को बीमारियों से बचाव के लिए सूचना जारी कर दी गई है. साथ ही चेकिंग अभियान चलाया जा रहा है.

योगेश सारस्वत, जिला मलेरिया अधिकारी, मेरठ

इनका है कहना

सीजनल बीमारियों के लिए अवेयरनेस बहुत जरूरी है. लोगों को खुद भी बीमारियों से बचने के प्रयास करने चाहिए.

आयुष

सरकारी विभागों के साथ ही आम लोगों का जागरूक होना बहुत जरूरी है. अधिकतर बीमारियां लोगों की लापरवाही की वजह से ही फैलती हैं.

अनिल जिंदल

प्रशासन को चाहिए कि वह लोगों को अवेयर करने के लिए जागरूकता कार्यक्रम चलाए. आम लोगों को मौसमी बीमारियों की जानकारी दी जाए.

आशीष