बिजली विभाग के दो अधिकारी भी बीमार, डेंगू के दो मरीज रैपिड टेस्ट में मिले पॉजिटिव

BAREILLY:

बरेली में जानलेवा बुखार ने एक और जिंदगी खत्म कर दी. बुखार की चपेट में ढाई साल की मासूम बच्ची की डिस्ट्रिक्ट हॉस्पिटल के बच्चा वार्ड में तड़पकर थर्सडे रात मौत हो गई. कैंट थाना के पालपुरा गांव निवासी प्रेमपाल की ढाई साल की बेटी नंदिनी की कुछ दिनों से तबीयत खराब थी. गरीब परिजनों ने नजदीक के झोलाछाप से इलाज कराया तो हालत बिगड़ गई. परिजन वहां से दूसरे और फिर तीसरे डॉक्टर के पास लेकर पहुंचे, लेकिन बच्ची की हालत गंभीर देख सबने हाथ खड़े कर दिए. वेडनसडे रात परिजन मासूम को लेकर बच्चा वार्ड पहुंचे. लेकिन बच्ची के सैंपल लिए जाने से पहले ही उसकी मौत हो गई.

एसडीओ-एक्सईएन बीमार

डेंगू व जेई के खतरे के बीच बिजली विभाग के दो बड़े अधिकारी भी बुखार की चपेट में आ गए हैं. एसडीओ त्रिवेणी सहाय और एक्सईएन एसके शुक्ला पिछले कई दिनों से बुखार से पीडि़त है. दोनों में डेंगू के लक्षण मिले हैं. साथ ही प्लेटलेट्स काफी कम हो गई है. पिछले 5 दिनों से दोनों ऑफिस नहीं आ रहे. वहीं डिस्ट्रिक्ट हॉस्पिटल की ओपीडी में फ्राइडे को दो मरीजों में डेंगू की पुष्टि हुई. हालांकि दोनो मरीजों की रैपिड कार्ड टेस्ट हुए थे, जिनमें डेंगू कंफर्म मिला. दोनों ही मरीजों के सैंपल सैटरडे को एलाइजा जांच के लिए भेजे जाएंगे.

-----------------