GORAKHPUR: सिटी के इस्माईलपुर में पिछले दिनों डेंगू के दो मरीज मिलने से हेल्थ विभाग में हड़कंप मच गया. आनन-फानन में स्वास्थ्य विभाग की टीम ने जब पड़ताल शुरू की तो बैट्री के गमले और बोतल में डेंगू का लार्वा पाया. इसके बाद उसे नष्ट कर दिया गया. साथ ही फागिंग और साफ सफाई कराई गई. विभाग ने सभी को अवेयर करते हुए घर में रखे कुलर, गमले में पानी को बाहर करने की सलाह के साथ दवा खाने की सलाह दी.

डेंगू का प्रकोप बढ़ने से हेल्थ विभाग की नींद उड़ गई है. जहां कभी भी डेंगू के मरीज पाए जा रहे वहां स्वास्थ्य विभाग और नगर निगम की संयुक्त टीम पहुंचकर एहतियात के तौर पर वहां की कमियों को दूर करने में लगी है. चार रोज पहले इस्माईलपुर में डेंगू के दो मरीज पाए गए थे. सीएमओ के निर्देश पर हेल्थ विभाग की टीम तत्काल मौके पर पहुंची और आसपास के घरों में रखे कूलर, गमला और वाटर टैंक की पड़ताल की. इस बीच खाली बैटी और एक बोतल में डेंगू का लार्वा पाया गया. विभाग ने तत्काल उसे नष्ट कर दिया और परिवार वालों को सर्तक रहने की सलाह दी. हालांकि आंकड़ों पर गौर किया जाए तो अब तक जिला अस्पताल में 853 का टेस्ट हो चुका है, जिसमें से 216 मरीजों में डेंगू की पुष्टि हुई है.