-आरटीओ ने नोटिस लेने से किया इंकार

-जिला मलेरिया विभाग ने शुरु किया चेकिंग अभियान

मेरठ. शासन और प्रशासन डेंगू से बचाव के लिए तमाम कवायद कर रही हैं, लेकिन सरकारी विभागों में ही डेंगू का मच्छर पनप रहा है. लेकिन सरकारी विभाग ही संजीदगी नहीं दिखा रहे हैं. गजब यह है कि चेकिंग के लिए आरटीओ पहुंची जिला मलेरिया विभाग की टीम को डेंगू का लार्वा मिला तो टीम ने आरटीओ को इस बाबत नोटिस थमाया, तो वह उल्टा टीम पर बरस गए. जिसके बाद टीम बिना नोटिस दिए वापस आ गई.

कूलर, कबाड़ में मिला लार्वा

चेकिंग के लिए सुबह आरटीओ पहुंचे यूएमओ डॉ. सुधीर गुप्ता, एसएमआई प्रदीप रावत, सुपरवाइजर आशीष शर्मा, एमआई देवेंद्र, बालेश्वर व अशोक कुमार की टीम ने कई जगह चेकिंग की. इस दौरान कमरों में रखे कूलर, ड्रमों व कबाड़ में काफी मात्रा में लार्वा पाया गया. आरटीओ में बनी कैंटीन के अंदर भी डेंगू का लार्वा पाया गया है.

------------------

डेंगू लार्वा मिलने पर नोटिस देने के लिए शासन से निर्देश आए हैं. आरटीओ में टीम चेकिंग के लिए गई थी, वहां काफी संख्या में लार्वा मिला है, लेकिन आरटीओ ने नोटिस लेने से मना कर दिया.

योगेश सारस्वत, जिला मलेरिया अधिकारी

टीम मंगलवार को आई थी. आरटीओ परिसर में लार्वा मिला है लेकिन डीएमओ की तरफ से पहले से कोई अवेयरनेस प्रोग्राम नहीं चलाया है. हमारे यहां पानी निकासी का कोई साधन भी नहीं हैं.

डॉ. विजय, आरटीओ, मेरठ

नोटिस लेने से कोई मना नहीं कर सकता. अगर कोई भी सरकारी विभाग ऐसा करता है तो उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी.

डॉ. राजकुमार, सीएमओ, मेरठ.