खाने की नली ब्लॉक होने पर इलाज करवाने आया था मरीज

सोमवार को जांच के बाद मरीज में हुई डेंगू की पुष्टि

Meerut. मेडिकल कॉलेज मरीजों को डेंगू दे रहा है. यहां एडमिट एक बुजुर्ग मरीज में जांच के बाद सोमवार को डेंगू की पुष्टि की गई.

कराइर् गई जांच

बागपत निवासी 72 साल के रिटायर्ड शिक्षक वेद सिंह को उनके परिजनों ने 31 अगस्त को खाने की नली ब्लॉक होने की शिकायत पर भर्ती करवाया था. परिजन अरुण ने बताया कि भर्ती करवाने करीब 5 दिन बाद वेद को बुखार की शिकायत हुई. इसके बाद 8 सितंबर को उनका टेस्ट करवाया गया. सोमवार को मिली रिपार्ट में डेंगू की पुष्टि हुई है. अरुण का कहना है कि वेद को इससे पहले बुखार की कोई शिकायत नहीं थी. जबकि वर्ष 1998 में उनके खाने की नली का आपरेशन हुआ था और करीब दो महीने पहले नली में दोबारा दिक्कत हुई थी. जिसके बाद उन्हें मेडिकल में एडमिट करवाया गया था.

देर से मिलते हैं लक्षण

स्वास्थ्य विभाग की एपिडेमिक इंचार्ज डॉ. रचना टंडन ने बताया कि डेंगू के लक्षण तुरंत ही सामने नहीं आते हैं. इंफेक्शन होने के दो से सात दिन बाद बुखार होता है. मरीज की हिस्ट्री देखने के बाद ही कुछ कहा जा सकता है.