CHAIBASA: पश्चिम सिंहभूम के चक्रधरपुर अंतर्गत टोकलो के रोलाडीह गांव के राजा सामड में डेंगू पॉजिटिव पाया गया है. डेंगू की पुष्टि होने पर स्वास्थ्य विभाग ने उसे जमशेदपुर के टाटा मेन हॉस्पिटल (टीएमएच) में भर्ती करा दिया है. जिले में डेंगू का पहला केस सामने आते ही स्वास्थ्य विभाग भी अलर्ट हो गया है. चक्रधपुर समेत राज्य की राजधानी रांची में डेंगू और चिकनगुनिया के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए पश्चिम सिंहभूम में भी अलर्ट जारी किया गया है. सिविल सर्जन डॉ. हिमांशु भूषण बरवार ने सदर अस्पताल समेत सभी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र और उप स्वास्थ्य केंद्रों में तैनात चिकित्सकों को मौसमी बीमारियों के साथ-साथ मच्छर जनित रोगों मलेरिया, डेंगू और चिकनगुनिया के साथ-साथ डायरिया के मरीजों पर निगरानी रखने का आदेश जारी किया है. सभी प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारियों को स्पष्ट निर्देश दिया है कि एक भी मरीज में इन बीमारियों की पुष्टि होने पर तुरंत जिला में रिपोर्ट करें. उन्होंने इंटीग्रेटेड डिजिज सर्विलांस प्रोग्राम विभाग की मदद से मौसमी बीमारियों को लेकर एक्शन प्लान भी बनवाया है. यहां बता दें कि पिछले साल भी अगस्त माह में ही जिले में डेंगू ने पैर पसारे थे. उस समय कुल 42 सेंपल टेस्ट हुए थे. जांच के बाद नौ मरीजों में डेंगू पॉजिटिव पाया गया था.

जिले में डेंगू का पहला केस सामने आया है. टोकलो के रोलाडीह निवासी राजा सामड में डेंगू को पॉजिटिव पाया गया है. वर्तमान में उसका इलाज जमशेदपुर के टीएमएच में चल रहा है. डेंगू व चिकनगुनिया को लेकर हमने सदर अस्पताल समेत सभी स्वास्थ्य उपकेंद्रों को अलर्ट जारी कर दिया है.

-डॉ. हिमांशु भूषण बरवार, सीएच, पश्चिम सिंहभूम