खेल के लिए पर्याप्त मैदान वाले स्कूलों को चिंहित करने के दिए निर्देश

बच्चों के लिए बनाया जाएगा स्पोटर्स कॉम्पलेक्स

Meerut. स्पोटर्स में बढते करियर ऑप्शन और स्कोप को देखते हुए बेसिक शिक्षा विभाग खेल नर्सरी तैयार करने की योजना बना रहा है. बच्चों में स्पोटर्स स्पिरिट पैदा करने और गेम्स में छिपी हुई प्रतिभाओं को मंच देने के लिए विभाग स्पोटर्स कॉम्पलेक्स तैयार करवाएगा. इसके लिए अपर शिक्षा निदेशक ने सभी जिलों के बेसिक शिक्षा विभाग को खुले मैदानी क्षेत्र वाले स्कूलों में चिंहित करने के निर्देश जारी किए हैं

आउट डोर गेम्स पर होगा विशेष फोकस

दुनिया भर में गेम्स की बढ़ती मांग और बच्चों को फिटनेस को देखते हुए शिक्ष विभाग की ओर से यह कदम उठाया जा रहा है. इसके तहत विभाग का फोकस अधिक से अधिक आउटडोर गेम्स पर है. जिसमें हॉकी, फुटबॉल, वॉलीबाल, एथलेटिक्स शामिल हैं. इसके अलावा इंडोर गेम्स को बढ़ावा देने के लिए विभाग ने स्कूलों को निर्देश जारी किए हैं.

बनाया जाएगा खेल परिसर

बच्चों को बेहतर संसाधन देने के लिए परिषद की ओर से सभी जिलों में स्पोटर्स कॉम्पलेक्स बनाया जाएगा. इसके तहत विभाग की ओर संसाधन मुहैया करवाने के लिए सूचनाएं भी मांगी गई हैं. स्पोटर्स कॉम्पलेक्स के लिए विभाग को स्थल भी चिंहित करने के लिए कहा गया है. जहां एक किमी के दायरे में हॉस्टल या आवासीय क्षेत्र होना चाहिए इसके अलावा परिवहन के भी उचित साधन यहां होने चाहिए ताकि दूर-दराज के बच्चों को किसी प्रकार की कोई परेशानी न हो. सभी सूचनाओं को भेजने के लिए परिषद की ओर से बीएसए विभाग को 2्र9 सितंबर तक का समय दिया गया है. सभी सूचनाएं ऑनलाइन भेजी जाएंगी.

बच्चों में खेलों के प्रति रूझान को विकसित करने के लिए खेल परिसर के लिए निर्देश आएं हैं. स्कूलों को निर्देश जारी कर दिए गए हैं. सूचना मिलते ही परिषद को भेज दी जाएगी.

डॉ. एसके गिरि, एबीएसए, मेरठ