- शराबबंदी के लिए तैयार हो रही होमगार्ड की फौज

- सिपाही से लेकर कंपनी कमांडर तक के पदों पर होगी बहाली

PATNA : शराबबंदी को पूरी तरह से प्रभावी बनाने के लिए सरकार ने तैयारी पूरी कर ली है. वह किसी भी कीमत पर इस मुहिम को प्रभावी बनाने की मंशा पर काम कर रही है. इसके लिए होमगार्ड की भूमिका को महत्वपूर्ण बनाया जा रहा है. अवैध शराब में संलिप्त कारोबारियों की खबर लेने के लिए सरकार होमगार्ड में रिक्त क्0फ्ब् पदों पर बहाली की प्रक्रिया जल्द ही शुरू करने वाली है. इसमें सिपाही से लेकर कंपनी कमांडर स्तर के पद शामिल हैं.

शराबबंदी में होमगार्ड की भूमिका होगी अहम

गृहरक्षा वाहिनी (होमगार्ड) ने वर्ष ख्0क्ब्-क्भ् में ही बिहार राज्य कर्मचारी चयन आयोग को कंपनी कमांडर के कुल क्फ्0 तथा अधिनायक अनुदेशक कोटि के ख्ब्ब् पदों पर नियुक्ति की अधियाचना कर चुकी है. इन पदों पर नियुक्ति के लिए विज्ञापन भी प्रकाशित किए जा चुके हैं, लेकिन इसकी लिखित परीक्षा की तिथि फिलहाल घोषित नहीं की जा सकी है. सूत्रों ने बताया कि उपरोक्त पदों पर नियुक्ति की प्रक्रिया अगले कुछ ही दिनों में शुरू कर दी जाएगी. इसके लिए रोस्टर क्लियरेंस का काम पहले ही हो चुका है.

चालकों की नियुक्ति का साफ हो रहा रास्ता

होमगार्ड में स्थायी ड्राइवर के कुल 99 पदों पर सीधी नियुक्ति के लिए भी रोस्टर क्लियरेंस का काम पूरा हो चुका है. जल्द ही नियुक्ति के लिए विज्ञापन जारी कर दिया जाएगा. इसके अलावा होमगार्ड में अधिनायक लिपिक के क्ख्म् पदों पर तथा सिपाही कोटि के ब्ख्म् पर बहाली होनी है. अधिकारिक सूत्रों का कहना है कि राज्य में पहली अप्रैल से लागू हो रही नई उत्पाद नीति को पूर्ण रूप में प्रभावी बनाने के लिए उत्पाद विभाग और बिहार पुलिस को महत्वपूर्ण जिम्मेदारी सौंपी गई है.

एक नजर रिक्तयों पर

पदनाम रिक्तियों की संख्या

सिपाही : ब्ख्म्

अधिनायक अनुदेशक : ख्ब्ब्

कंपनी कमांडर : क्फ्0

अधिनायक लिपिक : क्ख्म्

चालक : 99