एमबी कॉलेज के मैदान में कार्यकर्ता सम्मेलन में बोले डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य

कार्यकर्ताओं को हर गली जाकर प्रचार करने को कहा

BAREILLY .

बरेली में हो रहे मेयर चुनाव में विकास का मुद्दा पीछे चला गया है. विजय पताका लहराने के लिए पार्टियां साम्प्रदायिकता की रोटी सेंकने में लग गई हैं. सपा से मेयर प्रत्याशी डॉ. आईएस तोमर ने चुनाव को साम्प्रदायिक ताकतों के खिलाफ लड़ाई बताया तो ट्यूजडे को प्रदेश के उप मुख्यमंत्री और भाजपा के वरिष्ठ नेता केशव प्रसाद मौर्या ने इसे राम और बाबर की लड़ाई करार दे दिया. जब उन्होंने बिथरी चैनपुर से भाजपा विधायक राजेश मिश्रा उर्फ पप्पू भरतौल के इसी बयान पर मुहर लगा दी. एमबी इंटर कॉलेज में ट्यूजडे को वह कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे. उन्होंने बरेली मेयर प्रत्याशी को भारी मतों से जीत दिलाने के लिए कार्यकर्ताओं में जोश भरा. इस मौके पर प्रदेश निकाय चुनाव प्रभारी पंकज सिंह, मेयर प्रत्याशी उमेश गौतम, विधायक पप्पू भरतौल समेत कई पदाधिकारी मौजूद रहे.

खुद को हिंदू साबित कर रहे राहुल

और प्रदेश के उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी पर तंज कसते हुए कहा कि वे मंदिरों में चक्कर लगाकर खुद को हिंदू साबित करने में लगे हुए हैं. वहीं सपा प्रमुख अखिलेश यादव को दिमाग ठिकाने आने की बात कही. सैफई में भगवान कृष्ण की मूर्ति लगाने के साथ ही कुछ दिन बात उन्हें राम भी याद आएंगे.

नकल करने में लगी दूसरी पार्टियां

कार्यकर्ता सम्मेलन में डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने कहा बीजेपी की नीतियों को जानकर उनकी नकल करना ही विपक्षी पार्टियों के पास काम रह गया है. उन्होंने कहा कि बीजेपी के एजेंडों को लोगों के बीच अपने एजेंडे बताकर ये पार्टियां राजनीति कर रही हैं. प्रदेश में भाजपा की सरकार बनने के बाद पार्टी ने ऐसे सभी लोगों को चिह्नित कर उन पर लगाम कसी है. वहीं अपराधियों को जेल में डाला है यदि किसी अपराधी ने इसका विरोध किया है तो उसको इसका खामियाजा भी भुगतना पड़ा है. प्रदेश में कानून व्यवस्था को स्थापित करने के लिए सीएम ने पुलिस प्रशासन को पूरी तरह से स्वतं˜ाता दी है.

बड़ी संख्या में जीतेंगे पार्षद

डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि प्रत्याशी सिर्फ मेयर पद पर ही नहीं बल्कि पार्षद भी बड़ी संख्या में जीतकर आएंगे और पूर्ण बहुमत के साथ निगम में पार्टी को स्थापित करेंगे. ताकि कोई भी विकास कार्यो में हस्तक्षेप न कर सके. निकाय चुनाव के लिए हमारी पार्टी ने संकल्प पत्र तैयार किया है. ये संकल्प पत्र नहीं बल्कि वचन पत्र है. हम चुनाव जीतने के बाद अपने हर एक वचन को निभाने के लिए प्रतिबद्ध रहेंगे. पार्टी ने मेयर पद के लिए एक युवा और ऊर्जा से भरे इंसान को टिकट दिया है जो अपने बल पर बरेली को स्मार्ट सिटी बनाने के लिए काफी समय से संघर्ष कर रहा है. अब पार्टी के साथ मिलकर वे लोगों की सेवा करना चाहते हैं.

वनवास खत्म करेगी जनता

कार्यकर्ता सम्मेलन में प्रदेश में निकाय चुनाव प्रभारी नोएडा से विधायक पंकज सिंह ने कहा कि लोकसभा चुनाव में पार्टी की लहर थी, जो विधानसभा चुनाव तक रही, लेकिन अब लहर नहीं सुनामी है. जनता अन्य पार्टियों की नीतियों, उनकी करनी और कथनी में अंतर समझ चुकी है. बरेली की जनता भी अब बीजेपी के साथ है. ऐसे में, नगर निगम चुनावों में बीजेपी का 15 वर्ष का वनवास खत्म हो जा रहा है. बरेली मेयर प्रत्याशी उमेश गौतम के पास लोगों की सेवा करने का जज्बा और हिम्मत दोनों हैं. कार्यकर्ताओं को उनको जीताने के लिए गली-गली जाकर पार्टी का प्रचार करना होगा. ये चुनाव किसी पार्टी, प्रत्याशी का नहीं बल्कि भारत माता को वैभव दिलाने का है.

विधायक के िववादित बोल

बिथरी चैनपुर से विधायक राजेश मिश्रा ने कहा बरेली का चुनाव निगम का चुनाव नहीं बल्कि बाबर और राम का चुनाव है. बरेली की जनता बहकावे में आकर दो बार बाबर को वोट दे चुकी है. जिसका खामियाजा भी भुगतना पड़ा है. पूर्व में दो बार रहे मेयर ने बरेली में उन जगहों पर विकास किया जहां पर बाबर के वंशज रहा करते हैं और कूड़ा वहां गिरवाया जहां राम रहते हैं. ऐसे में, अब बाबर को बरेली से भगाने का समय आ गया है. नगर निगम चुनाव में पूरी तरह से रामराज करना ही बरेली की जनता का लक्ष्य है. इसके लिए अब सभी को मिलकर भाजपा के साथ आकर बाबर को भगाने को जंग छेड़नी होगी.