घरेलू कनेक्शन पर कामर्शियल यूज की करेंगे शिकायत

घरेलू कनेक्शन पर चले रहे जिम, डांस क्लॉस, पार्लर और फूड सेंटर

MEERUT । यदि आप अपने घरेलू कनेक्शन की बिजली का प्रयोग अपने कोचिंग, दुकान, पार्लर या अन्य किसी कामर्शियल गतिविधि में कर रहे हैं तो जरा सावधान हो जाएं। कहीं ऐसा ना हो कि आपको घरेलू कनेक्शन पर ही कामर्शियल बिजली का भारी बिल देना पड़ जाए। विद्युत विभाग अब अपने राजस्व में वृद्धि के लिए घरेलू कनेक्शन का कोचिंग, पार्लर, दुकान के नाम पर दुरपयोग करने वाले उपभोक्ताओं पर नकेल कसने जा रहा है।

घरेलू कनेक्शन पर नजर

दरअसल शहर की विभिन्न कालोनियों में अवैध रुप से लोगों ने अपने घर में ही दुकानें खोली हुई हैं। इन दुकानों में तरह तरह के काम जैसे- कोचिंग, पार्लर, जिम, म्यूजिक क्लास, डांस क्लास आदि काम किए जा रहे हैं। यहां तक की ये दुकानें मकान मालिक ने किराये पर भी दी हुई है, लेकिन इन दुकानों के लिए अलग से कामर्शियल मीटर लेने के बजाए घरेलू कनेक्शन पर ही बिजली का प्रयोग हो रहा है। ऐसे में अब विद्युत विभाग ने ऐसे कनेक्शनों की जंाच कर नोटिस भेजना काम शुरु किया है।

मीटर रीडर करेंगे मॉनीटर

इस काम के लिए विद्युत विभाग ने अपनी गोपनीय जांच शुरु करते हुए घरों में बिजली का बिल बनाने जाने वाले मीटर रीडर को प्राथमिक स्तर पर काम सौंपा है ये रीडर बिल बनाने के साथ आवास में हो रही कॉमर्शियल एक्टीविटी की जानकारी संबंधित एसडीओ को देंगे और एसडीओ स्तर पर उनके कनेक्शन की जांच होगी। यदि कनेक्शन कामर्शियल नही मिला तो कनेक्शन काट दिया जाएगा।

नोटिस के बाद होगी वसूली

इस अभियान के तहत पहले चरण में विभाग द्वारा घरेलू कनेक्शन का दुरपयोग करने वाले उपभोक्ताओं को नोटिस जारी कर कनेक्शन बदलने का आग्रह किया जाएगा। यदि इसके बाद भी कनेक्शन या अलग मीटर नही लगया जाता तो उनके अधिभार की वसूली की जाएगी।

पहले से ही घरेलू कनेक्शन के कामर्शियल प्रयोग पर रोक है। अब घर के बाहर दुकान या कोचिंग चलाने वालों के मीटर की भी जांच की जा रही है। खासतौर पर जिनका लोड अधिक है और बिल कम आ रहा है उनको मॉनीटर किया जाएगा।

- बीएस यादव, चीफ इंजीनियर