बरेली. रिठौरा गांव में पुरानी रंजिश को लेकर दो पक्ष भिड़ गए. यूपी 100 मौके पर पहुंची तो झगड़ रहे लोगों ने उसे घेर लिया. पुलिसकर्मी घिरे तो सूचना थाना पुलिस को दी गई. दारोगा फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे. उन्होंने पुलिसकर्मियों को मुक्त कराया. लाठी भांजकर दोनों पक्षों को खदेड़ा. मारपीट में कई लोग घायल हो गए. इस दौरान एक ने दूसरे पक्ष का एक वाहन भी क्षतिग्रस्त कर दिया.

गांव आसपुर हसन अली में नाली को लेकर मनोहर लाल एवं सुनील कुमार से लगभग आठ माह से रंजिशन चल रही है. बुधवार को दिन में सुनील अपने ट्रैक्टर ट्राली से गन्ना भर कर चीनी मील पर ले जा रहे थे. तभी अपने घर से मोटर साइकिल से सोनू निकला. सोनू का आरोप है कि सुनील ने ट्रैक्टर उसके ऊपर चढ़ाने का प्रयास किया. इसी बात को लेकर दोनों पक्ष आमने सामने आ गये. दोनों पक्षों के बीच जमकर लाठी डंडे चलने लगे. सूचना पर यूपी 100 पीआरवी 226 मौके पर पहुंची. सिपाही सुनील कुमार, भीमसेन जैसे ही वाहन से नीचे उतरे. झागड़ा कर रहे दोनों पक्षों ने उन्हें घेर लिया. खुद को घिरा देख पुलिसकर्मियों ने थाना पुलिस को दी. उपनिरीक्षक संजीव दुबे पुलिस के साथ मौके पर पहुंचे. उन्होंने झगड़ा कर रहे लोगों पर लाठी भांजीं तो स्थिति नियंत्रण में आई. मारपीट में ब्रहम्मा देवी पत्नी मनोहर लाल ,सुनील कुमार, सोनू , शिशुपाल, धर्मेद्र कुमार आदि घायल हो गए. पुलिस ने घायलों को उपचार के लिए अस्पताल भेजा है. कार्यवाहक थाना प्रभारी मुनसी लाल रावत ने बताया कि दोनों पक्षों के बीच नाली को लेकर विवाद चल रहा है. मामला समाधान दिवस में जा चुका है. एसडीएम सदर भी मौका मुआयना कर चुके हैं. अभी तक विवाद का निस्तारण नहीं हो पाया है.