बड़ी संख्या में अभ्यर्थियों की कापियों और रिजल्ट में मिल रहा अंतर

शुक्रवार को परीक्षा नियामक प्राधिकारी कार्यालय में डटे रहे अभ्यर्थी

allahabad@inext.co.in

ALLAHABAD: सहायक अध्यापक भर्ती परीक्षा का परिणाम, सचिव परीक्षा नियामक प्राधिकारी कार्यालय के लिए टेढ़ी खीर साबित हो रहा है. शिक्षक भर्ती परीक्षा के परिणाम में विवाद शुरू होने के बाद कापियों के मूल्यांकन में गड़बडि़यों के मिलने का सिलसिला बदस्तूर जारी है. शनिवार को भी कोर्ट के निर्देश पर परीक्षा नियामक प्राधिकारी कार्यालय द्वारा अभ्यर्थियों को कापियों के स्कैन प्रति लेने दी गई. जिसमें बड़ी संख्या में अभ्यर्थियों के रिजल्ट में मिले और कापियों में मिले में बड़े अंतर देखने को मिले.

49 में से 48 को मिली स्कैन कापियां

हाईकोर्ट के निर्देश पर परीक्षा नियामक प्राधिकारी की तरफ से शनिवार को 49 अभ्यर्थियों को कापियों की स्कैन प्रति देने के लिए बुलाया गया था. इनमें से सिर्फ 48 को ही स्कैन कापी मिलने में सफलता मिल सकी. एक अभ्यर्थी की कापी अभी तक नहीं मिल सकी. ऐसे में अनुमान लगाया जा रहा है कि अभ्यर्थी की कापी कही गुम तो नहीं हो गई.

अभ्यर्थियों के बढ़ गए नंबर

स्कैन कॉपी में कौशांबी के राजेश कुमार, रोल 35351105241 को रिजल्ट में 11 मिले थे

जबकि परीक्षा नियामक की तरफ से मिली स्कैन कापी में राजेश का टोटल 71 था

शनिवार को अभ्यर्थियों को मिली स्कैन कापियों में औरैया जिले की प्रीति भारती, रोल नंबर 16200301562 को रिजल्ट में 48 अंक मिले थे जबकि स्कैन कापी में प्रीति का 48 से बढ़कर 98 हो गया

उन्नाव की अन्नपूर्णा तिवारी, रोल 19302210528 को रिजल्ट में 60 अंक मिले थे. स्कैन कापी में उनका अंक 80 था.

जालौन की रहने वाली प्रियंका राजपूत, रोल नं. 16192802467 को रिजल्ट में 54 अंक मिले थे, जबकि परीक्षा में उनको कुल 77 अंक हासिल हुए थे.

औरैया की पूजा, रोल नंबर 35251004929 को परीक्षा परिणाम में 37 अंक मिले थे. परीक्षा नियामक की ओर से मिली कापी में उनका अंक 75 था

कई ऐसे अभ्यर्थी भी थे, जिनके परीक्षा परिणाम और स्कैन कापी में अंतर 10 से 15 अंक तक ही था

अभ्यर्थियों ने पूरी परीक्षा पर ही सवाल उठाना शुरू कर दिया है.

अभ्यर्थियों का कहना है कि अगर सभी अभ्यर्थियों के परीक्षा परिणाम को रिवाइज किया जाए, तो परीक्षा में सफल होने वाले अभ्यर्थियों की संख्या पहले परिणाम के मुकाबले काफी अधिक होगी.