कंस्ट्रक्शन वर्क सैटिस्फैक्टरी है
दीघा रेल सह सड़क पुल का कंस्ट्रक्शन वर्क 31 मार्च 2015 तक पूरा हो जाएगा। ईस्ट सेंट्रल रेल, हाजीपुर के जीएम मधुरेश कुमार ने बताया कि पुल के कंस्ट्रक्शन वर्क सैटिस्फैक्टरी है। पुल का काम तेजी हो रहा है। तय समय सीमा के भीतर वर्क पूरा कर लिया जाएगा।
14 स्पैन बने तो पुल होगा तैयार
दीघा रेल सह सड़क पुल में टोटल 36 स्पैन बनाए जाने हैं, इसमें 22 बनकर तैयार हो चुके हैं। बाकी बचे 14 स्पैन का काम भी तेजी से चल रहा है। सीपीआरओ अमिताभ प्रभाकर ने बताया कि पुल में 123 मीटर के 36 स्पैन बनाए जाएंगे। वहीं 64 मीटर के दो स्पैन बनाए जाएंगे। पुल में सड़क और ट्रैक का काम साथ-साथ किया जा रहा है। कम समय पर पूरा हो इसके लिए रेलवे तीसरे एजेंसी की भी हेल्प ले रही है।
 
सोनपुर तरफ से रोड बनना शुरू
रोड डेक के कास्टिंग का काम सोनपुर की ओर से संडे से स्टार्ट हो गया। जीएम मधुरेश कुमार की मौजूदगी में यह काम शुरू किया गया। इससे पहले दीघा की ओर से रोड डेक के कास्टिंग का काम किया जा रहा था। रेल ट्रैक के साथ रोड का काम साथ चलने से पुल कंस्ट्रक्शन में तेजी आई है।
 
65 नहीं 50 दिन में बनेगा स्पैन
पुल के कंस्ट्रक्शन वर्क में तेजी लाने के लिए स्पैन बनाने की दिनों में कटौती की गई है। पहले जहां एक स्पैन 60 से 65 दिन में बनता था, अब 45 से 50 दिन बनकर तैयार हो जाएगा। नए टेक्नीक के यूज से यह पॉसिबल हो गया है। अब 15 दिन से कम समय में स्पैन बनकर तैयार हो जाएगा।
 
9 मीटर का होगा रोड
पुल में सड़क की चौड़ाई 9.075 मीटर होगी। इसमें अलग से पाथवे भी बनाया जा रहा है। इसकी चौड़ाई डेढ़ मीटर होगी। इसमें रेलवे ने अपनी ओर से सभी टेक्निकल काम पूरे कर लिए हैं।
 

- 31 मार्च 2014 तक तैयार हो जाएगा पुल
- टोटल 36 स्पैन बनाए जाने हैं पुल में
- 22 स्पैन बनकर तैयार हो चुके हैं
- रोड डेक कास्टिंग स्टार्ट होने के बाद रोड और रेल ट्रैक काम साथ-साथ होगा
- 9.075 मीटर का होगा रोड
- डेढ़ मीटर का होगा पाथवे
- पुल के कंस्ट्रक्शन में तेजी लाने के लिए ली जा रही तीसरे एजेंसी की हेल्प
- पुल बनने से नार्थ बिहार से सीधे पटना का कनेक्शन जुड़ जाएगा
- गांधी सेतु पर दबाव घटेगा
- लोगों को गांधी सेतु पर लगने वाले जाम से मुक्ति मिलेगी
- पाटलिपुत्रा स्टेशन से सभी दिशा के लिए ट्रेन खुल सकेगी