नर्इ दिल्ली (पीटीआर्इ)। एक रिपोर्ट की मानें तो 2022 तक डिजिटल असिस्टेंट, सोशल मीडिया आैर थर्ड पार्टी चैनल बैंकिंग का मेन जरिया बन जाएंगे। ये नर्इ व्यवस्था मोबाइल आैर आॅनलाइन बैंकिंग के अलावा होंगी। बुधवार को एक रिपोर्ट में कहा गया है कि बैंकिंग के वर्तमान माध्यम मोबाइल आैर आॅनलाइन बैंकिंग, डिजिटल असिस्टेंट, सोशल मीडिया आैर थर्ड पार्टी चैनल 2022 तक बैंकिंग के मुख्य माध्यम बन जाएंगे। यह बात 10वें एनुअल 'इनोवेशन इन रिटेल बैंकिंग' की रिपोर्ट में कहीं गर्इ है।

वर्तमान वर्कलोड का 40 फीसदी क्लाउड पर होगा
रिपोर्ट के अनुसार, शोध में शामिल आधे से ज्यादा लोगों का मानना है कि बैंकिंग सेक्टर के वर्तमान वर्कलोड का 40 फीसदी काम 2022 तक पब्लिक क्लाउड पर चला जाएगा। इसके अलावा 70 प्रतिशत कस्टमर सर्विस सपोर्ट का काम आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस के हाथ में होगा। इस शोध दुनियाभर के 300 से ज्यादा बैंक शामिल थे। उनसे एप्लीकेशन प्रोग्रामिंग इंटरफेस (एपीआर्इ) के बारे में पूछा गया कि वे इस टाॅप टेक्नोलाॅजी आैर इनोवेशन के भविष्य को लेकर क्या सोचते हैं।

Business News inextlive from Business News Desk