कानपुर। हाल ही में मध्य प्रदेश की भोपाल लोकसभा सीट से कांग्रेस प्रत्याशी दिग्विजय सिंह के समर्थन में कंप्यूटर बाबा ने हजारों साधुओं के साथ हठ योग कर धूनी रमाई। इस दाैरान कांग्रेस प्रत्याशी दिग्विजय सिंह भी पूजा में शामिल हुए। खबरों की मानें तो बीजेपी ने इसकी शिकायत निर्वाचन आयोग से की है। इसके बाद चुनाव आयोग धूनी रमाने व हठ योग के मामले की जांच के आदेश दिए हैं।  
कंप्यूटर बाबा को दिग्विजय की जीत के लिए हठ योग करना पड़ा महंगा,चुनाव आयोग ने कसा शिकंजा
कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह की भूमिका की जांच होगी

इस मामले में न्यूज एजेंसी एएनआई द्वारा किए गए ट्वीट के मुताबिक जिला कलेक्टर भोपाल ने इस मामले की जांच के आदेश दिए हैं। इसमें जिन बिंदुओं पर जांच होगी उनके यह है कि क्या भोपाल में हठ योग करने के लिए अन्य संतों के साथ कम्प्यूटर बाबा को अनुमति दी गई थी। इस आयोजन की लागत कितनी आई है। इसके अलावा कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह की भूमिका की जांच भी की जाएगी।
कंप्यूटर बाबा को दिग्विजय की जीत के लिए हठ योग करना पड़ा महंगा,चुनाव आयोग ने कसा शिकंजा
भोपाल : दिग्विजय सिंह की जीत के लिए कम्प्यूटर बाबा ने हजारों साधुओं संग किया हठ योग, रमाई धूनी
पीएम मोदी बोले, 'दीदी' को भारत नहीं पाकिस्तान के पीएम को पीएम मानने में है गर्व
बीजेपी की साध्वी प्रज्ञा ठाकुर से है कड़ा मुकाबला

बता दें कि भोपाल दिग्विजय सिंह और बीजेपी की साध्वी प्रज्ञा ठाकुर के बीच कड़ा मुकाबला हो रहा है। ऐसे में दिग्विजय सिंह के समर्थन में हाल ही में कंप्यूटर बाबा साधु-संतों की टोली के साथ उतर हैं। बीते साेमवार को कंप्यूटर बाबा ने दिग्विजय सिंह की जीत के लिए हजारों साधुओं के साथ  धूनी रमाई और हठयोग किया था। इस दाैरान दिग्विजय सिंह पत्नी के साथ इस पूजा में शामिल हुए थे।