- मेल वार्ड में एक वीक से खराब पड़ा हुआ है आरओ

- पानी के लिए भटक रहे पेशेंट और उनके अटेंडेंट

BAREILLY:

बस हादसे के बाद डिस्ट्रिक्ट हॉस्पिटल में मंत्री, विधायक से लेकर उच्चाधिकारियों का दौरा हो रहा है. अफसोस, हॉस्पिटल के दरवाजे पर खड़ी समस्या पर इनकी निगाह नहीं पड़ रही है. पीने के शुद्ध पानी के लिए लगा आरओ और वाटर कूलर करीब दस दिन से खराब है. सीवर का पानी ओवर फ्लो हो रहा है, जिससे होकर मरीजों और तीमारदारों को गुजरना पड़ रहा है. थर्सडे दोपहर को सीवर की गंदगी से डीएम डॉक्टर पिंकी जोवल का भी सामना हुआ, लेकिन समस्या पर ऊंगली भर ही उठ सकी. सीवर लाइन क्लियर करने का काम तुरंत शुरू नहीं हो सका.

हैंडपम्प दे रहा खराब पानी

वैसे तो मेल वार्ड में हैंडपम्प भी लगा हुआ है, लेकिन उससे निकल रहा गंदा पानी पीने योग्य नहीं हैं. ऐसे में आरओ का खराब होना एक अलग की मुसीबत है. ऊपर से टेम्प्रेचर की मार से बार-बार लग रही प्यास से पेशेंट व अटेंडेंट काफी परेशान हैं. पानी के लिए इधर-उधर भटक रहे हैं. ऐसे में मरीजों और अटेंडेंट को बाहर से बोतल बंद पानी खरीदने के लिए मजबूर होना पड़ रहा है. या फिर महिला वार्ड से पानी ला रहे हैं.

विजिट रोज समस्या नहीं दिख रही

बस हादसे के बाद इन दिनों जिला अस्पताल में परिवहन मंत्री स्वतंत्र देव सिंह, वित्त मंत्री राजेश अग्रवाल, विधायक अरुण कुमार सहित सामाजिक संस्थाओं के पदाधिकारी भी विजिट कर रहे हैं, लेकिन किसी का ध्यान इस ओर नहीं जा रहा है. जबकि, पीने के पानी की समस्या से पेशेंट एक वीक से जूझ रहे हैं. उन्होंने इस बात की शिकायत स्वास्थ्य प्रबंधन से भी की, लेकिन कोई फायदा नहीं हुआ.

गंदा पानी देख डीएम नाराज

छुट्टी से लौटी डीएम डॉ. पिंकी जोवल थर्सडे को जिला अस्पताल पहुंची. उन्होंने बस हादसे में घायलों का हाल जाना. मेल वार्ड के न्यू बिल्डिंग के सामने बह रहे सीवर के पानी से डीएम खफा हो गई. उन्होंने अस्पताल प्रबंधन को कैम्पस में बह रहे गंदा पानी को सही करने को कहा.

अस्पताल में पीने के पानी की काफी समस्या है. आरओ से पानी नहीं आ रहा है. महिला वार्ड में जाना पड़ रहा है.

योगेंद्र, अटेंडेंट

आरओ खराब पड़ा हुआ है. हैंडपम्प से भी खराब पानी निकल रहा है. जिस वजह से काफी दिक्कत हो रही है.

चोखेराम, अटेंडेंट