लंबी दूरी की बसों के डायवर्जन की व्यवस्था तीसरे दिन भी नहीं हो सकी पूरी तरह लागू

Meerut. टै्रफिक पुलिस और परिवहन विभाग के आपसी तालमेल में कमी के कारण बुधवार को भी लंबी दूरी की बसों के डायवर्जन की व्यवस्था तीसरे दिन भी पूरी तरह लागू नहीं हो सकी. बाईपास से लेकर तेजगढ़ी चौराहे और बेगमपुल पर किसी भी प्रकार की डायवर्जन व्यवस्था शुरू नहीं हो सकी. इसी का नतीजा है कि लंबी दूरी या दूसरे डिपो की बसें आज भी शहर की सड़कों पर दौड़ रही हैं.

पुलिसकर्मियों की कमी

यातायात पुलिसकर्मियों की कमी के कारण अभी शहर के बाहर किसी भी डायवर्जन पाइंट पर बसों को रोकने की व्यवस्था लागू नहीं हो पा रही है. केवल बाईपास पर लंबी दूरी की बस चालक खुद ही शहर के भीतर जाने के बजाए मेरठ की सवारियों को उतारकर बाईपास से आगे निकल रहे हैं. वहीं आगरा, अलीगढ़, बरेली, लखनऊ से आने वाली लंबी दूरी की बसें गढ़ रोड से तेजगढ़ी चौराहा होते हुए शहर में अंदर एंट्री कर रही हैं.

------------------------

यह व्यवस्था टै्रफिक पुलिस को बनानी है. हमने अपने सभी डिपो पर बाहरी बसों को प्रतिबंधित कर दिया है लेकिन शहर में बसों को आने से पुलिस ही रोक सकती है.

परवेज बशीर, एआरएम

------------------------

फोटो- नवीन फोल्डर में

राष्ट्रोदय स्थल का अधिकारियों ने किया निरीक्षण

मेरठ. 25 फरवरी को जागृति विहार एक्सटेंशन में राष्ट्रोदय 2018 का आयोजन होने जा रहा है. जिसके अंतिम चरण की तैयारियों समेत सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लेने के लिए बुधवार को पुलिस व प्रशासनिक अधिकारियों का अमला राष्ट्रोदय स्थल पर मौजूद रहा. आला अधिकारियों ने राष्ट्रोदय के पदाधिकारियों के साथ बैठक कर सभी प्रकार की व्यवस्थाओं का निरीक्षण कर विशेष दिशा-निर्देश जारी किए. निरीक्षण में एडीजी प्रभात कुमार, आईजी राजकुमार, एसएसपी मंजिल सैनी समेत राष्ट्रोदय के पदाधिकारी शामिल रहे.