RANCHI : सिटी में युवतियों के साथ वारदातों का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है। एक तरह एक छात्रा के साथ सामूहिक दुष्कर्म का मामला सामने आया तो दूसरी तरफ अपराधियों ने एक युवती को गला घोंटकर मार डाला। हालांकि, सामूहिक दुष्कर्म के मामले में जहां सभी छह आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है, वहीं युवती की हत्या मामले में आरोपियों का सुराग पाने के लिए पुलिस छानबीन जारी है।

गैंग रेप के चार आरोपी नाबालिग

छात्रा के साथ गैंगरेप मामले में गिरफ्तार छह आरोपियों में चार नाबालिग हैं। इस मामले में पीडि़ता ने पुलिस को बताया कि वह चुटिया स्थित एक स्कूल की नौंवी की छात्रा है और उसका दोस्त प्रियांशु कांके रोड स्थित एक स्कूल का स्टूडेंट है। फेसबुक के माध्यम से दोनों में दोस्ती हुई थी। प्रियांशु ने छात्रा को घूमने के लिए बुलाया था और फिर अपने पांच दोस्तों के साथ मिलकर उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म किया था। उसने यह भी बताया कि सामूहिक दुष्कर्म की घटना को कोतवाली थाना क्षेत्र में अंजाम देने के बाद उसे वे लालपुर के वर्दवान कंपाउंड में छोड़कर फरार हो गए थे।

बेसुध पड़ी थी छात्रा

गैंगरेप के बाद पीडि़ता सड़क पर बेसुध पड़ी थी। एक व्यक्ति ने इसकी सूचना लालपुर थाने को दी। इसके उपरांत लालपुर थानेदार दलबल के साथ मौके पर पहुंचकर छात्रा को हॉस्पिटल में एडमिट कराया था। होश में आने के बाद छात्रा ने पुलिस को बताया कि उसके करीबी दोस्त ने ही अपने साथियों के साथ मिलकर उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म किया था।

ऐसे आरोपी आए घेरे में

सामूहिक दुष्कर्म के आरोपियों की पहचान के लिए पुलिस ने पीडि़त छात्रा के फेसबुक में उसके फ्रेंड्स लिस्ट को खंगाला। इसके बाद छापेमारी कर सभी छह आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। इन सभी आरोपियों से कोतवाली पुलिस के साथ साथ महिला आयोग के सदस्यों ने भी पूछताछ की। पुलिस ने बताया कि भादवि 164 के तहत पीडि़ता का बयान कराया जाएगा। बयान के बाद पकड़े गए आरोपियों का डीएनए टेस्ट भी किया जाएगा।