RANCHI: रिम्स के डायरेक्टर डॉ। डीके सिंह ने कार्डियोलॉजी में डॉक्टरेट ऑफ मेडिसिन (डीएम) कोर्स शुरू करने को लेकर प्रेस कांफ्रेंस किया। उन्होंने कहा कि यह न केवल रिम्स बल्कि राज्य के लिए गर्व की बात है। एमसीआई ने दो सीटों पर कोर्स शुरू करने की मान्यता दे दी है। एमसीआई ने कार्डियोलॉजी विंग के इमरजेंसी, मरीजों के रूटीन फॉलोअप देखते हुए मान्यता प्रदान की है। डीएम के दो कैंडिडेट्स इसी साल से रिम्स में पढ़ाई कर सकेंगे। साथ ही कहा कि रिम्स में इतने विभाग हैं। लेकिन कोई भी अपने डिपार्टमेंट में डीएम शुरू करने को लेकर नहीं सोचता। अगर वे लोग भी इस पर गंभीरता से विचार करें तो अन्य विभागों में भी डीएम की पढ़ाई शुरू हो जाएगी।

खबरों से अव्यवस्था की जानकारी

कार्डियोलॉजी विंग में पिछले दिनों एक मरीज को तत्काल इलाज नहीं मिल सका, जिससे उसकी मौत हो गई थी। इस पर डायरेक्टर ने कहा कि हर जगह वे नजर नहीं रख सकते। इसलिए जब खबरें अखबार में छपती है तो उससे ही कई जानकारी मिलती हैं। इसके बाद हम सुधार करने को लेकर एक्शन भी लेते हैं। डॉक्टर अपने डिपार्टमेंट को दुरुस्त रखने के लिए जिम्मेवार हैं। इसलिए उन्हें हर एक्टिविटी पर नजर रखनी चाहिए।