एक माह के भीतर होगी शुरुआत, शहरी एरिया में हो रहा निर्माण

ऑन स्पाट मिलेगी डॉक्टरी सलाह, स्वास्थ्य विभाग का बड़ा कदम

allahabad@inext.co.in

ALLAHABAD: जी हां, यह सच है. मेट्रो सिटी हैदराबाद के नामचीन डॉक्टर्स अब इलाहाबाद के मरीजों का इलाज करेंगे वह भी बिल्कुल फ्री आफ कास्ट. यह सभंव होगा स्वास्थ्य विभाग द्वारा शहर में शुरू किए जा रहे पांच टेलीमेडिसिन सेंटर्स के जरिए. करोड़ों रुपए की लागत से तैयार हो रहे ये सेंटर्स एक माह के भीतर शुरू हो जाएंगे और फिर मरीजों को डाक्टरी सलाह के लिए हॉस्पिटल्स की लाइन में नही लगना पड़ेगा.

थी ई-यूपीएचसी की मांग

छह माह पहले प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह ने प्रीतम नगर में ई यूपीएचसी (अर्बन प्राइमरी हेल्थ सेंटरर) का उदघाटन किया था. इसके बाद शहर के तमाम इलाकों में ऐसे अन्य टेलीमेडिसिन सेंटर्स की मांग होने लगी. यही कारण रहा कि प्रदेश सरकार ने बिना देरी किए शहर के पांच अलग-अलग इलाकों में ई सेंटर्स खोलने का मन बना लिया. यहां पर कम्प्यूटर, स्टाफ, इंटरनेट कनेक्शन आदि व्यवस्था हो गई है. बहुत जल्द इनको स्टार्ट कर दिया जाएगा. यहां आने वाले मरीजों का रजिस्ट्रेशन, बीमारी की जांच आदि का इंतजाम होगा. साथ ही ऑनलाइन हैदराबाद के डॉक्टर से संपर्क कर मरीज को उचित सलाह दिलाई जाएगी.

यहां खोले जाएंगे ई यूपीएचसी

गोविंदपुर

राजरूपपुर

सदर बाजार

दारागंज प्रथम

गौसनगर

नो टेंशन, फटाफट मिलेगी सलाह

अधिकारियों की मानें तो चयनित इलाके ऐसे हैं जहां आसपास कोई बड़ा सरकारी हॉस्पिटल नही है. यहां के मरीजों को अक्सर इलाज के लिए दूर जाना होता है और फिर हॉस्पिटल में लंबी लाइन में इंतजार करना होता है. ऐसे में कई बार मरीजों को दिक्कत होती है. यही कारण है कि टेलीमेडिसिन सेंटर्स पर तत्काल ऑनलाइन डॉक्टरी सलाह उपलब्ध हो जाएगी. भविष्य में अन्य एरिया में भी ई यूपीएचसी खोलने की कवायद चल रही है.

ग्रामीण इलाकों को भी सौगात

शहर से जुडे ग्रामीण इलाकों को भी स्वास्थ्य विभाग की सौगात मिलने जा रही है. उनके लिए छह अर्बन हेल्थ कियोस्क खुलने जा रहे हैं. यह हेल्थ सब सेंटर्स होंगे, जहां एएनएम को नियुक्त किया गया है. यह सभी साधारण इलाज के साथ लोगों को परिवार नियोजन की जानकारी भी उपलब्ध कराएंगी. लोगों को कंडोम और गर्भ निरोधक गोलियां प्रदान करने के साथ जच्चा-बच्चा का टीकाकरण किया जाएगा. यह सभी डूडा के केंदो्रं पर खुलेंगी.

शहर के अभी भी ऐसे कई इलाके हैं जहां इलाज की आधुनिक सुविधा उपलब्ध नही हैं. यहां के मरीजों को फटाफट इलाज के लिए अलग-अलग जगहों पर पांच टेलीमेडिसिन सेंटर्स की स्थापना की जा रही है. इनका जल्द उदघाटन होगा.

डॉ. गिरिजाशंकर बाजपेई,

सीएमओ