वाशिंगटन (पीटीआई)। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने रविवार को पाकिस्तान को अरबों रुपये के सैन्य सहायता रोके जाने वाले अपने प्रशासन के फैसले का बचाव किया, उन्होंने कहा कि पाकिस्तान अमेरिका के लिए कुछ नहीं करता है और वहां की सरकार ने अल कायदा के नेता ओसामा बिन लादेन को छिपाने में काफी मदद की थी। पाकिस्तान के एबोटाबाद में लादेन और उनके पूर्व परिसर का जिक्र करते हुए, फॉक्स न्यूज के एक इंटरव्यू में ट्रंप ने कहा, जरा यह सोचिये...आप जानते हैं कि पाकिस्तान में रहना, पाकिस्तान में बहुत अच्छे से रहने, मुझे लगता है कि वे खुद को वहां सबसे ज्यादा महफूज समझते होंगे।'

आतंकवाद के खिलाफ कड़ी कार्रवाई नहीं करने को लेकर रोकी मदद
उन्होंने कहा, 'लेकिन पाकिस्तान में सैन्य अकादमी के बगल में रहना, पाकिस्तान में हर कोई जानता था कि वह वहां रहता था और हम पाकिस्तान को एक साल में 1.3 अरब डॉलर दे रहे थे। लादेन पाकिस्तान में मजे से रहता था और हम उनका सपोर्ट करते रहे, हम पाकिस्तान को प्रति वर्ष 1.3 अरब डॉलर दे रहे थे, जिसे अब हम नहीं दे रहे हैं। मैंने सहायता रोक दी है क्योंकि पाकिस्तान हमारे लिए कुछ नहीं करता है। बता दें कि सितंबर में ट्रंप प्रशासन ने अपने देश में आतंकवाद के खिलाफ कड़ी कार्रवाई नहीं करने को लेकर पाकिस्तान को दी जाने वाली 300 मिलियन अमेरिकी डॉलर की राशि को रोक दी थी।

कैलिफोर्निया में पिछले हफ्ते लगी भीषण आग से अब तक 56 लोगों की मौत, 130 अभी भी लापता

फ्लाइट में पैसेंजर विंडो सीट पर बैठने की कर रहा था जिद, एयर होस्टेस ने खोज निकाला अनोखा तरीका

International News inextlive from World News Desk