विदेश मंत्री को पद से हटाया
दरअसल, अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने मंगलवार को विदेश मंत्री रेक्स टिलरसन को पद से हटा दिया है और उनकी जगह पर  सीआईए के निदेशक माइक पोंपियो को नियुक्त कर लिया है। इसको लेकर ट्रंप ने एक ट्वीट भी किया है, जिसमें लिखा है कि 'सीआईए के निदेशक माइक पोंपियो अब हमारे नए विदेश मंत्री होंगे और वह बेहतरीन काम करेंगे।'

मतभेद के कारण पद से हटाया
इसके बाद ट्रंप ने इस मामले पर मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि 'मैंने यह फैसला खुद लिया है, क्योंकि ईरान समेत कई प्रमुख मुद्दों पर टिलरसन के साथ मेरे मतभेद थे”। उन्होंने कहा कि 'रेक्स और मैं लंबे समय से कई प्रमुख बात पर चर्चा कर रहे थे, लेकिन कई मामलों में हम एक-दूसरे से असहमत थे। ईरान समझौते को देखें तो मेरे ख्याल से यह डरावना है, मेरा मानना है कि उनके लिए यह ठीक था। मैं या तो इसे तोड़ना चाहता था या कुछ करना चाहता था और वह कुछ अलग सोचते थे।' इसके बाद उन्होंने यह भी कहा कि 'हम लोग एक तरीके से नहीं सोच रहे थे। मेरा मानना है कि माइक पोंपियो और मेरी सोच एक जैसी है और यह फैसला भविष्य में बहुत अच्छा साबित होगा।'

हसपेल की नियुक्ति की घोषणा
ट्रंप ने सेंट्रल इंटेलिजेंस एजेंसी के निदेशक के तौर पर गिना हसपेल को चुना है। बता दें कि गिना ऐसी पहली महिला होंगी जो इस शीर्ष पद पर नियुक्त की जायेंगी। ट्रंप ने इसको लेकर एक ट्वीट भी किया, जिसमें लिखा कि 'गिना हसपेल सीआईए की नई निदेशक होंगी और इस पद पर चुनी जाने वाली वह पहली महिला होंगी। सभी को बधाई।' इसके अलावा गिना ने भी इस पद के लिए राष्ट्रपति का शुक्रिया अदा भी किया है।

बेहद शुक्रगुजार हैं माइक
मीडिया से बातचीत करते हुए माइक ने कहा कि वह ट्रंप के 'बेहद शुक्रगुजार' हैं, जिन्होंने देश में उन्हें सीआईए के निदेशक और विदेश मंत्री के तौर पर सेवा देने का अवसर प्रदान किया।

International News inextlive from World News Desk