- आज से धरातल पर उतरने लगेगा निगम का ड्रीम प्रोजेक्ट

- पहले चरण में सीएम आवास से दिलाराम बाजार तक लगाई जाएंगी एलईडी लाइट्स आज किया जायेगा एलईडी बल्ब का उद्घाटन

- तीन माह के भीतर प्रोजेक्ट पूरा करने का निगम ने किया दावा

DEHRADUN: शहर को एलईडी बल्बों की रोशनी से जगमगाने का नगर निगम का ड्रीम प्रोजेक्ट आज से हकीकत में तब्दील होने लगेगा. निगम का दावा है कि तीन माह के भीतर शहर एलईडी बल्बों की दूधिया रोशनी से जगमगाने लगेगा. इससे न केवल बिजली पर होने वाला निगम का खर्चा बचेगा बल्कि बिजली की भी बचत होगी. आज से सीएम आवास से लेकर दिलाराम बाजार तक एलईडी बल्ब लगाए जाएंगे. बाकायदा निगम के मेयर की मौजूदगी में इस काम का उद्घाटन होगा.

हर माह बचेंगे ख्7 लाख

निगम से मिली जानकारी के मुताबिक स्ट्रीट लाइट्स की व्यवस्था में निगम को हर माह भ्फ् लाख रुपए बिजली के बिल के रूप में अदा करने होते हैं. ग्रामीण क्षेत्रों में हर माह स्ट्रीट लाइट्स पर निगम क् लाख ब्क् हजार रुपए, सेंट्र्ल सिटी में ख्0 लाख क्भ् हजार रुपए, साउथ सिटी में क्भ् लाख भ्ख् हजार रुपए जबकि नॉर्थ सिटी में क्7 लाख 90 हजार रुपए खर्च करता है. सभी इलाकों में एलईडी बल्ब लग जाने से बिजली के बिल में ख्7 लाख रुपए की बचत होगी.

आज करेंगे उद्घाटन

शहर में एलईडी बल्बों को लगाने का काम आज से शुरू किया जा रहा है. सबसे पहले सीएम आवास से दिलाराम बाजार तक एलईडी बल्ब लगाए जाएंगे. इसी दौरान इलाके में स्ट्रीट लाइट्स की ट्रायल भी होगी. शहर में एलईडी लाइट्स लगाने की जिम्मेदारी (इनर्जी एफिशिएंसी सर्विसेज लिमिटेड) ईईएसएल कंपनी को सौंपी गई है. नगर निगम द्वारा कंपनी से सात साल का अनुबंध किया गया है.

----------------------

- आज से शहर में एलईडी बल्ब लगाने का काम शुरू हो जाएगा. एलईडी बल्ब के लगने से बिजली के बिल में भी कटौती होगी और बिजली भी बचेगी. भारत सरकार की ईईएसएल कंपनी को सात साल के अनुबंध पर स्ट्रीट लाइट्स की जिम्मेदारी सौंपी गई है.

- विनोद चमोली, मेयर, नगर निगम.

- ब्ख् हजार सोडियम बल्ब होंगे रिप्लेस

- ख्7 लाख रुपए हर महीने बचेंगे बिजली के बिल के

- भ्फ् लाख रुपए प्रतिमाह बिजली का बिल अदा करता है निगम