RANCHI : शिक्षा मंत्री नीरा यादव ने मैट्रिक व इंटरमीडिएट के खराब परिणाम को लेकर बुधवार को झारखंड एकेडमिक काउंसिल के अध्यक्ष डा. अरविंद प्रसाद सिंह तथा सचिव रजनीकांत वर्मा को तलब किया. उन्होंने जैक पदाधिकारियों से दोनों परीक्षाओं को लेकर कई सवाल पूछे.

की जाएगी समीक्षा

इधर, मंत्री ने दोनों परीक्षाओं के परिणाम की विस्तृत समीक्षा करने का निर्णय लिया है. वे विभाग के सभी पदाधिकारियों के साथ इसे लेकर बैठक करेंगी. बैठक में इस वर्ष परिणाम में गिरावट की समीक्षा की जाएगी. मंत्री ने रिजल्ट को लेकर सभी जिला शिक्षा पदाधिकारियों से रिपोर्ट मंगाने का भी निर्णय लिया है.

---

शिक्षा मंत्री ने पूछे ये सवाल

टॉपर्स की लिस्ट क्यों जारी नहीं हुई?

मंत्री ने ले जैक पदाधिकारियों से पूछा कि मैट्रिक और इंटरमीडिएट परीक्षा के जारी परिणाम में आखिरकार टॉपरों की सूची क्यों नहीं जारी हुई, जबकि इसे जारी करने की परंपरा रही है. इसपर जैक अध्यक्ष ने कहा कि उत्तर-पुस्तिकाओं की स्क्रूटनी के बाद टॉपरों की सूची जारी कर दी जाएगी.

देर से मूल्यांकन क्यों शुरु हुआ?

मंत्री ने दोनों परीक्षाओं की उत्तर-पुस्तिकाओं के देर से मूल्यांकन किए जाने तथा बहुत कम समय में रिजल्ट जारी किए जाने पर इसमें गलतियों की संभावना भी व्यक्त की. इसपर जैक के पदाधिकारी संतोषजनक जवाब नहीं दे सके.

पूरे स्कूल का कैसे देख सकते हैं रिजल्ट

मंत्री ने पूछा कि जैक द्वारा जारी परिणाम में यदि कोई व्यक्ति कोड के तहत किसी स्कूल के सारे बच्चे का रिजल्ट देखना चाहे तो वह कैसे देख सकता है? इसपर जैक अध्यक्ष ने मंत्री को बताया कि जिला शिक्षा पदाधिकारियों को कोड भेज दिया गया है. वे इसे देख सकते हैं