तीन जगह हुए हादसों में एक ही परिवार के छह समेत आठ की मौत

PRAYAGRAJ: बोलेरो चालक को सोमवार रात करीब एक बजे आई झपकी सुल्तानपुर के एक परिवार की बर्बादी का कारण बन गई. मऊआइमा रामफलकिनारी चौकी के पास बोलेरो रोड किनारे खड़े ट्रक में पीछे से जा टकराई. टक्कर इतनी जोरदार थी कि बोलेरो गड्ढे में जा गिरी. हादसे में एक मासूम समेत पांच लोगों की मौके पर ही मौत हो गई. जबकि छठें व्यक्ति ने एसआरएन हॉस्पिटल में दम तोड़ दिया. गंभीर हालत में तीन लोग अस्पताल में भर्ती कराए गए हैं. सभी सोरांव थाना क्षेत्र के अकारीपुर में रिश्तेदार के यहां रिसेप्शन में शामिल होकर लौट रहे थे. उधर, कुंभ मेला और धूमनगंज एरिया में हुई घटना में एक वृद्ध और एक युवक की जान चली गयी.

रिसेप्शन से लौट रहे थे घर

सुल्तानपुर जिले के सदर कोतवाली ओमनगर बजराजपुर निवासी प्रदीप कसौंधन (50) पुत्र स्व. रामचंद्र, पत्‍‌नी सुशीला (45) व भाई विनोद कसौंधन (45), सालिनी देवी पत्‍‌नी विनोद कसौंधन, राज (6) पुत्र विनोद कसौंधन, भाई मनोज कसौंधन (40), भांजी वैशाली (18) पुत्री स्व. शंकर लाल, भांजा पंकज पुत्र स्व. शंकर लाल, आरती (35) पत्‍‌नी दीपू के साथ किराए की बोलेरो से सोमवार सुबह रिसेप्शन में शामिल होने आए थे. लौटते समय रामफल किनारी चौकी के पास बोलेरो चालक मनोज को झपकी आ गई और वह बोलेरो लेकर रोड किनारे खड़े ट्रक में पीछे से जा घुसा. टक्कर इतनी तेज थी बोलेरो घूम कर सड़क किनारे खड्ड में चली गई. हादसे में प्रदीप कसौंदन, विनोद कसौंदन, शालिनी देवी, वैशाली, राज, की मौके पर ही मौत हो गई. हादसे को देख ट्रक लेकर चालक भाग खड़ा हुआ.

तीसरे भाई की अस्पताल में मौत

गंभीर रूप से घायल घायल मनोज कसौंधन, आरती, पंकज एवं बोलेरो चालक मनोज को सोरांव स्थित एक प्राइवेट हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया. वहां से डॉक्टरों ने मनोज कसौंधन व उसके भांजे पंकज को एसआरएन हॉस्पिटल के लिए रेफर कर दिया. यहां इलाज के दौरान मनोज की भी मौत हो गई. अन्य घायलों का इलाज चल रहा है. सूचना पर पोस्टमार्टम हाउस पहुंचे नाते रिश्तेदारों में कोहराम मच गया.

काली सड़क पर हुआ हादसा

कुंभ मेला काली सड़क पर छोटे भार वाहन की टक्कर से मंगलवार को गंगा नहाने जा रहे कर्नलगंज थाना क्षेत्र के पुराना कटरा निवासी अरुण कुमार शाहू (50) की भी मौत हो गई. उनकी कटरा में किराने की दुकान है. तीसरी घटना में धूमनगंज एरिया में एक गाड़ी को चलाने की कोशिश कर रहे युवा गाड़ी लेकर गढ्डे में पलट गये. इसमें देर रात एक युवक की मौत हो जाने की सूचना आयी. तीन अन्य बुरी तरह से जख्मी थे.

बाक्स

गुड़ का बड़ा व्यापारी था प्रदीप

प्रदीप कसौंदन गुड़ का बड़ा व्यापारी था. बताते हैं कि वह गुड़ का थोक व्यापार न सिर्फ सुल्तानपुर बल्कि प्रतापगढ़, इलाहाबाद व फतेहपुर तक करता था. सुल्तानपुर शहर में आयोजित होने वाले कई धार्मिक आयोजनों में उसके परिवार का बड़ा सहयोग रहता था. इस नाते जिले में उसकी पहचान व्यापारी के साथ समाजसेवी के रूप में थी.