नई दिल्ली (पीटीआई)। पीएम नरेंद्र मोदी की बोयिपक पर बैन रिलीज के एक दिन पहले बैन लग चुका है। दरअसल फिल्म की रिलीज पहले 11 अप्रैल को होनी थी पर रिलीज के एक दिन पहले यानी की 10 अप्रैल को चुनाव आयोग ने फिल्म की स्क्रीनिंग पर बैन लगा दिया है। चुनाव आयोग का कहना है कि ऐसी कोई भी फिल्म जो किसी राजनीतिक पार्टी या शख्स से ताल्लुक रखती है उसे इलेक्शन के दौरान इलेक्ट्राॅनिक मीडिया पर जारी नहीं किया जाएगा। मालूम हो पहले चरण का लोकसभा चुनाव 11 अप्रैल को होना है और माना जा रहा है कि इस फिल्म के रिलीज होने से वोटर्स पर असर पड़ सकता है।
लोकसभा चुनाव 2019: चुनाव आयोग ने फिल्म पीएम नरेंद्र मोदी की रिलीज पर लगाई रोक
सर्टिफिकेशन भी है बाकी
सुप्रीम कोर्ट ने मंगलवार को फिल्म से जुड़ी फाइल की गई एक पिटीशन को खारिज कर दिया और इस मुद्दे को इलेक्शन कमिशन के पास ले जाने को कहा। ये पिटीशन कांग्रेस पार्टी की ओर से दाखिल की थी जिसमें फिल्म की रिलीज को रोकने की बात कही गई थी। वहीं एपेक्स कोर्ट ने कहा कि फिल्म को सेंसर बोर्ड ने अभी तक सर्टिफाइड भी नहीं किया है। फिलहाल मालूम हो इस याचिका में होने वाले लोकसभा चुनावों के पूरा होने तक फिल्म की रिलीज को बैन करने की मांग की गई है। इस फिल्म पर आरोप लगाया गया था कि चुनाव के दौरान इसके रिलीज होने से मतदाताओं पर प्रभाव पड़ सकता है।
लोकसभा चुनाव 2019: चुनाव आयोग ने फिल्म पीएम नरेंद्र मोदी की रिलीज पर लगाई रोक

पीएम मोदी की बायोपिक रिलीज विवाद पर बोले विवेक ओबेराॅय, 'चौकीदार से डर गए क्या'


'पीएम नरेंद्र मोदी' के मेकर्स को इलेक्शन कमीशन ने भेजा ये नोटिस, जानें फिल्म रिलीज होगी भी या नहीं

विवेक ओबेराॅय ने इंटरव्यू में कही थी ये बात
हाल ही में विवेक ओबेराॅय ने अपनी विवादित फिल्म 'पीएम नरेंद्र मोदी' को लेकर एएनआई को इंटरव्यू दिया था। इस इंटरव्यू में उन्होंने कहा था, 'मुझे समझ नहीं आ रहा है कि कुछ लोग फिल्म को लेकर ओवररिएक्ट क्यों कर रहे हैं। पता नहीं क्यों सीनियर वकील जैसे अभिषेक सिंघवी जी और कपिल सिब्बल जी अपना समय पीआईएल दाखिल करने में बर्बाद कर रहे हैं। पता नहीं शायद वो फिल्म से डर गए हों या फिर चौकीदार के डंडे से।' हालांकि फिल्म के पोस्टर, टीजर और ट्रेलर के साथ-साथ इसका पहला साॅन्ग भी रिलीज किया जा चुका है, 'मिट्टी की सौगंध'।
लोकसभा चुनाव 2019: चुनाव आयोग ने फिल्म पीएम नरेंद्र मोदी की रिलीज पर लगाई रोक