गाजीपुर की घटना के बाद बनारस में मचा बवाल

-पहडि़या मंडी में डटे कई पार्टी के नेता व समर्थक

VARANASI

मतदान के बाद ईवीएम की सिक्योरिटी को लेकर देश में मची किचकिच बनारस तक पहुंच गयी है। देर रात ईवीएम की अदला-बदली का अफवाह फैलते ही पहडि़या मंडी में हो-हल्ला शुरू हो गया। कई दलों के नेता पहुंचकर हंगामा करने लगे। इसकी जानकारी होने पर आनन-फानन में निर्वाचन अधिकारी भी पहुंचे। किसी तरह उन्होंने हल्ला कर रहे नेताओं को शांत कराया। मंगलवार सुबह फिर मामला तूल पड़का। प्रियंका गांधी का ऑडियो मैसेज मिलते ही विपक्ष ने मतगणना स्थल पर डेरा डाल दिया है।

बनारस तक पहुंची अफवाह

गाजीपुर और चंदौली में ईवीएम बदले जाने की अफवाह बनारस पहुंचते ही कांग्रेस और सपा के कई कार्यकर्ता वाराणसी स्थित पहडि़या मंडी पहुंच गए। सरकार विरोधी नारेबाजी करते हुए धरने पर बैठ गए। अचानक उनके रात में पहुंचने पर ईवीएम की सुरक्षा में मौजूद सुरक्षाकर्मी भी घबरा गए। उन्होंने इसकी सूचना तत्काल उच्च अधिकारियों को दी। मौके पर पीएसी संग स्थानीय पुलिस पहुंच गई। रात तक दोनों पार्टी के कार्यकर्ता धरने पर बैठे रहे। हालांकि, पुलिस ने इस दौरान सुरक्षा व्यवस्था और कड़ी कर दी। रात भर किसी स्थिति से निपटने के लिए सुरक्षाबलों को सतर्क कर दिया गया था। वहीं, ईवीएम बदलने की अफवाह को लेकर पहडि़या मंडी में विभिन्न दलों के कार्यकर्ता जमे हैं।

त्रिस्तरीय सुरक्षा घेरे में ईवीएम

सीसीटीवी की निगरानी के साथ त्रिस्तरीय सुरक्षा घेरे में ईवीएम रखी गयी हैं। पहडि़या मंडी के स्ट्रांग रूम का पहला सुरक्षा घेरा सीआईएसएफ के जिम्मे है। एक प्लाटून जवान तैनात किये गए हैं। इसके बाद पैरामिलिट्री फोर्स और एक हजार पुलिसकर्मी लगाए गये हैं। इसमें सीओ, इंस्पेक्टर, सब इंस्पेक्टर, हेडकांस्टेबल व कांस्टेबल शामिल हैं। दो शिफ्टों में 24 घंटे ड्यूटी कर रहे हैं। सुरक्षा व्यवस्था की निगरानी में दो सीओ लगे हैं। जो 12-12 घंटे निगरानी रखेंगे।

प्रियंका के मैसेज से माहौल गर्माया

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने कार्यकर्ताओं और नेताओं को ऑडियो मैसेज भेज कर स्ट्रांग रूम के सामने पहरेदारी करने को कहा। उस संदेश का असर दिखा जब कांग्रेस प्रत्याशी अजय राय के समर्थक और पार्टी के जिले व शहर के पदाधिकारियों ने पहडि़या मंडी में मोर्चा संभाल लिया है। इसके अलावा गठबंधन प्रत्याशी शालिनी यादव के समर्थक सपा जिलाध्यक्ष डॉ.पीयूष यादव साथ बैठे रहे।

पिंडरा में चुनाव के बाद से ही कई प्रत्याशियों के प्रतिनिधि मतगणना स्थल पर रात में रुक रहे हैं। 24 घंटे सीसीटीवी के माध्यम से ईवीएम पर नजर रखा जा रहा है। ईवीएम को लेकर कुछ लोग अफवाह फैला कर माहौल बिगाड़ने की कोशिश में हैं। सोशल मीडिया पर अफवाह फैलाने वालों पर कार्रवाई की जाएगी।

-सुरेंद्र सिंह, जिला निर्वाचन अधिकारी

वाराणसी संसदीय क्षेत्र

3638 बैलेट यूनिट

1819 कंट्रोल यूनिट

1819 वीवीपैट

70 टेबलों पर होगी मतगणना

800 कार्मिक करेंगे गिनती

6 घंटों में पूरी होगी मतगणना

400 कार्मिक रिजर्व में