पांच करोड़ के सब स्टेशन ने बढ़ाया लोड

देहरादून.

पावर कॉरपोरेशन के सब स्टेशन में अपने-पराए का खेल चल रहा है. कॉरपोरेशन की कॉलोनी सहित आसपास के मोहल्लों का लोड कम करने के लिए पांच करोड़ रुपये खर्च कर नया सब स्टेशन बनाया गया जो छह माह से काम ही नहीं कर रहा है. यहां ट्रांसफार्मर, फीडर सब खराब पड़े हैं. काम करने वाली कंपनी भी नासिक से इंजीनियर्स आने की बात कहते हुए चुप बैठी है तो दूसरी ओर इस बिजली घर के लिए भी दूसरे सब स्टेशन से बिजली ली जा रही है.

--

कम करने की जगह बढ़ा दिया लोड

पंडितवाड़ी, बसंत बिहार, आईटीबीपी सीमाद्वार, सहित आसपास के क्षेत्रों का बिजली का लोड 33 केवी बसंत बिहार सब स्टेशन बल्लीवाला पर है जो कि ओवर लोडेड हैं. ऐसे में इस सब स्टेशन का लोड कम करने के लिए पावर कॉरपोरेशन की ओर से 33 केवी सब स्टेशन ऊर्जा भवन बल्लीवाला चौक के समीप बनाया गया, ताकि आधे इलाके को यहां से सप्लाई दी जा सके. करीब पांच करोड़ रुपये खर्च कर डेढ़ साल पहले इस बिजली घर की शुरुआत की गई.

--

छह माह से पूरी तरह बंद

जबसे ये नया सब स्टेशन बना है तब से ही यहां कोई न कोई फॉल्ट आता ही रहता है. पहले तो सब स्टेशन के बनते ही यहां के लिए बिछाई अंडरग्राउंड केबल सड़क कार्यो के दौरान कट गई थी. उसके दुरुस्त होने के बाद ट्रांसफार्मर में फाल्ट आ गया. अब छह माह से तो ये स्थिति है कि सब स्टेशन पूरी तरह से ठप पड़ा है.

--

इसे भी जोड़ा बसंत विहार से

दरअसल यहां 33 लाइन की ट्रॉली फीडर में फंस गई. जिसकी वजह से सप्लाई नहीं मिल पा रही है. ऐसे में यहां से सप्लाई को कट करके बसंत विहार सब स्टेशन से जोड़ दिया गया है. बिजली घर का अपना ट्रांसफार्मर भी खराब पड़ा है. इस सब स्टेशन को इसलिए बनाया गया था कि ये दूसरी जगहों का लोड कम करेगा, लेकिन यहां तो ये तो खुद बसंत बिहार के सब स्टेशन पर लोड बनकर रह गया.

--

सब स्टेशन में कई खराबियां

33 केवी की ट्रॉली फीडर में फंसी

इलेक्ट्रिकल पैनल भी खराब

सब स्टेशन का अपना ट्रांसफार्मर खराब

अंडरग्राउंड केबल भी कट चुकी

ये है क्षमता

33 केवी ऊर्जा निगम सब स्टेशन

दो ट्रांसफार्मर 10-10 एमबी के लगे हैं

3 फीडर 11-11 केवी के लगे हैं

33 केवी बसंत बिहार सब स्टेशन

दो ट्रांसफार्मर 10-10 एमबी के लगे हैं

4 फीडर 11-11 केवी के लगे हैं

कनेक्शनों का संख्या- पांच हजार

33 केवी सब स्टेशन ऊर्जा भवन के न चलने को लेकर जानकारी नहीं है. ये पता है कि शुरू में तो चला था यदि ऐसा है तो मामले की जानकारी जुटा तुरंत सब स्टेशन को चालू करवाया जाएगा.

एके सिंह, प्रवक्ता, ऊर्जा निगम